logo
Breaking

पश्चिम बंगाल में 19 बच्‍चों की मौत, इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम का कहर

जानकारी के मुलाबित 3 जून से 16 जून तक इस बीमारी से मरने वाले बच्‍चों की संख्‍या 19 हो गई है।

पश्चिम बंगाल में 19 बच्‍चों की मौत,  इंसेफ्लाइटिस सिंड्रोम का कहर

कोलकाता. पश्चिम बंगाल में इंसेफ्लाइटिस से मरने वाले बच्‍चों की संख्‍या 19 पहुंच गई है। घटना मालदा जिले का है। एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी। मालदा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल के उप प्राचार्य सह अधीक्षक अधिकारी एम.ए. रशीद ने आईएएनएस से कहा कि 3 से 16 जून के बीच इंसेफ्लाइटिस से कम से कम 19 बच्चों की मौत हो गई है।

शनिवार को अंतिम मौत की जानकारी है। एमएमसीएच के चिकित्सकों के मुताबिक, दो से चार साल की उम्र के बच्चों की मौत दिमाग में आई सूजन से हुई है। रशीद ने कहा कि 46 से ज्यादा बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं। बच्चों में अचानक बुखार, ऐंठन जैसे लक्षण दिखाई पड़ने के पांच से छह घंटों के अंदर ही उनकी मौत हो जा रही है।

उन्होंने कहा कि हमने माता-पिता को निर्देश दिया है कि फलों को खाने से पहले उसे अच्छी तरह धो लें। प्रारंभिक रपटों के अनुसार, लीची में मौजूद विषाणु के कारण इस तरह के मामले आ रहे थे। स्थानीय स्वास्थ्य कर्मियों ने इस घटना को लीची सिंड्रोम करार दिया था, जबकि विशेषज्ञ इस घटना के लिए जिम्मेदार जीव की जांच कर रहे हैं। कलकत्ता स्कूल ऑफ ट्रॉपिकल मेडिसीन के विशेषज्ञों का एक दल पिछले सप्ताह प्रभावित क्षेत्र पहुंचकर वहां से नमूनों को इकट्ठा किया था। इसे आगे की जांज के लिए पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया है।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, बिहार में भी
इंसेफ्लाइटिस का कहर जारी -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top