Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

SHOCKING: 12 साल की बच्ची बनी मां, छठी क्लास में दिया शिशु को जन्म

ओडिशा के आदिवासी बहुल कोरापुट जिले के जेपुर प्रखंड के तहत बनाए गए अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की छात्रा ने मात्र 12 साल की उम्र में ही बच्चे का जन्म दिया है।

SHOCKING: 12 साल की बच्ची बनी मां, छठी क्लास में दिया शिशु को जन्म
ओडिशा, ओडिशा के आदिवासी बहुल कोरापुट जिले के जेपुर प्रखंड के तहत बनाए गए अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की छात्रा ने मात्र 12 साल की उम्र में ही बच्चे का जन्म दिया है। छात्रा छठी क्लास में पढ़ती है, छात्रा ने बच्चे को पांच दिन पहले जन्म दिया था लेकिन मामले से संबंध अधिकारी ने मामले को दबाया और प्रशासन को सूचित किए बैगर ही लड़की और नवजात को उसके घर भेज दिया था।
यह मामला उस समय सामने आया जब जिलाअधिकारी को इस मामले में एक शिकायत मिली। जिसके बाद यह मामला प्रकाश में आया। कोरापुट की जिलाधिकारी यामिनी सांरगी ने बताया कि लड़की और नवजात को सरकारी अस्पताल में ले जाया गया है जहां उन्हें डॉक्टर की देखरेख में रखा गया है। लेकिन लड़की और शिशु को तभी सरकारी अस्पताल ले जाया गया जब एक सरकारी दल ने सेमिलीगुड़ा प्रखंड में अपर कांति गांव में लड़की के घर का दौरा किया गया।
उन्होंने यह भी बताया कि लड़की और शिशु दोनों ही डॉक्टर की देखरेख में है तथा उनकी हालत स्थिर है। आपको जानकारी दें दे कि बच्चे को विशेष नवजात शिशु देखरेख इकाई में रखा गया है जबकि उसकी मां को मैटरनिटी वार्ड में उपचार के लिए रखा गया है।12 वर्षीय लड़की ओड़िशा के आदिवासी बहुल कोरापुट जिले के जेपुर प्रखंड के तहत अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्रों के लिए बनाए गए उमरी आश्रम स्कूल की छात्रा है। लेकिन अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि लड़की गर्भवती कैसे हुई इतनी कम उम्र में 12 साल की बच्ची के लिए बहुत ही खतरे की बात भी कही गई हैं।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, कुछ और बातें -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top