Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

YEAR ENDER: जानिए, भारतीय निशानेबाजों ने लहराया परचम

अयोनिका पॉल, अपूर्वी चंदेला और मोहम्मद असाब जैसे युवाओं ने भी अपनी चमक बिखेरी।

YEAR ENDER: जानिए, भारतीय निशानेबाजों ने लहराया परचम

नई दिल्ली. राष्ट्रमंडल खेलों और इंचियोन एशियाई खेलों में रिकार्ड तोड़ प्रदर्शन नहीं कर पाने के बावजूद भारतीय निशानेबाजों ने 2014 में सफलताएं हासिल कीं जिसमें पिस्टल किंग जीतू राय नए सितारे के रूप में उभरे । अभिनव बिंद्रा, गगन नारंग और मानवजीत सिंह संधू जैसे नामी गिरामी सितारों ने भी अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन बीता साल भारतीय निशानेबाजी में जीतू राय के नाम रहा।

अयोनिका पॉल, अपूर्वी चंदेला और मोहम्मद असाब जैसे युवाओं ने भी अपनी चमक बिखेरी। सेना के राय ने अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी में अपने पहले ही साल में सुर्खियां बंटोरी। विश्व कप में ऐतिहासिक स्वर्ण के बाद ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में रिकार्ड जीत और फिर विश्व चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतकर उसने रियो ओलंपिक 2016 के लिये क्वालीफाई किया। फिर इंचियोन एशियाई खेलों में भी पीला तमगा अपने नाम किया।

इसी सप्ताह उन्होंने पुणे में 58वीं राष्ट्रीय निशानेबाजी चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतकर अपनी उपलब्धियों में एक तमगा और जोड़ लिया। एक कैलेंडर वर्ष में किसी भारतीय ने छह अंतरराष्ट्रीय पदक नहीं जीते लेकिन राय ने यह करिश्मा कर दिखाया। उन्होंने इस साल अंतरराष्ट्रीय निशानेबाजी में पदार्पण करके हर स्पर्धा में पदक जीता।

भारतीय निशानेबाज ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में दिल्ली खेलों के प्रदर्शन को दोहरा नहीं सके लेकिन चार स्वर्ण समेत 17 पदक जीते। स्पेन के ग्रेनाडा में हुई विश्व चैंपियनशिप में राय दूसरे स्थान पर रहे और रियो का टिकट कटाया। भारत हालांकि इस चैंपियनशिप से एक ही ओलंपिक कोटा हासिल कर सका।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खिलाड़ियों ने किया अच्छा प्रदर्शन -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top