Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अलविदा 2018: साल 2018 के टॉप 10 खिलाड़ी

साल 2018 (Year Ender 2018) खत्म होने के बिल्कुल करीब आ गया है। यह साल भारतीय खेल (Indian Sports) जगत के लिए कई मायनों में ऐतिहासिक रहा। देश की बेटियों ने गोल्ड जीतकर विदेशों में भारत का परचम लहराया वहीं भारत (India) ने एशियन गेम्स (Asian Games 2018) में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर इतिहास रच दिया। आगे जानते हैं कि उन 10 भारतीय खिलाड़ियों (Top 10 Players in 2018) के बारे में जो अपने शानदार प्रदर्शन की वजह से साल 2018 में छाए रहे।

अलविदा 2018: साल 2018 के टॉप 10 खिलाड़ी
X

साल 2018 (Year Ender 2018) खत्म होने के बिल्कुल करीब आ गया है। यह साल भारतीय खेल (Indian Sports) जगत के लिए कई मायनों में ऐतिहासिक रहा। देश की बेटियों ने गोल्ड जीतकर विदेशों में भारत का परचम लहराया वहीं भारत (India) ने एशियन गेम्स (Asian Games 2018) में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर इतिहास रच दिया। तीन बच्चों मां और 36 वर्षीय खिलाड़ी मैरीकोम (Mary Kom) विश्व चैंपियन बनी वहीं कुछ ऐसे खिलाड़ियों ने भी गोल्ड जीता जिसके पास संसाधनओं का बेहद अभाव था।

अलविदा 2018 : इन 10 मैचों में भारतीय टीम ने रचा इतिहास, 'ऐडिलेड' रहा सबसे ज्यादा सुर्खियों में

आगे जानते हैं कि उन 10 भारतीय खिलाड़ियों (Top 10 Players in 2018) के बारे में जो अपने शानदार प्रदर्शन की वजह से साल 2018 में छाए रहे।

1 बजरंग पूनिया

पहलवान बजरंग पूनिया ने साल 2018 में जकार्ता में खेले एशियन गेम्स में भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाया। उन्होंने जापान के पहलवान तकातानी दाईची को पुरुषों की 65 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा के फाइनल में 11-8 से हराकर यह उपलब्धि हासिल की। एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले बजरंग पूनिया भारत के 9वें पहलवान भी बने।

2 मनिका बत्रा

भारत की टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा इस साल खूब सुर्खियों में रही। 22 वर्षीय मनिका ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में 4 अलग-अलग इवेंट में 4 मेडल जीते। जिसमें दो गोल्ड, 1 सिल्वर और 1 ब्रॉन्ज मेडल शामिल था। मनिका बत्रा को इन्चोन में प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस फेडरेशन स्टार अवॉर्ड्स में 'ब्रेकथ्रू टेबल टेनिस स्टार अवार्ड' भी मिला। इसके साथ ही यह अवार्ड जीतने वाली वह पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं।

3 राही सरनोबत

एशियन गेम्स 2018 में राही सरनोबत ने शूटिंग में गोल्ड मेडल जीता। इसके साथ ही शूटिंग में गोल्ड मेडल जीतने वाली वह पहली महिला खिलाड़ी भी बनी। राही ने एशियन गेम्स में 25 मीटर पिस्टल शूटिंग में रिकॉर्ड भी बनाया। बता दें कि राही ने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो एशियन गेम्स में 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता था।

4 नीरज चोपड़ा

एशियन गेम्स 2018 में मेन्स जेवलिन थ्रो में नीरज चोपड़ा ने भारत को गोल्ड दिलाकर इतिहास रच दिया। इस दौरान उन्होंने अपना ही नेशनल रिकॉर्ड तोड़ा। बता दें कि मिल्खा सिंह के बाद नीरज दूसरे ऐसे एथलीट है जिन्होंने एक ही साल में कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता हो। साथ ही बताते चलें कि जैवलिन थ्रो में भारत ने कभी गोल्ड नहीं जीता था।

5 विनेश फोगाट

साल 2018 में कुश्ती में भारतीय खिलाड़ियों ने खूब धमाल मचाया। जकार्ता में खेले एशियन गेम्स में विनेश फोगाट ने गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। इसके साथ ही एशियन गेम्स में गोल्ड जीतने वाली वह पहली भारतीय महिला पहलवान भी बनी। हाल ही विनेश फोगाट शादी के बंधन मे भी बंधी है।

6 विराट कोहली

हमेशा की तरह साल 2018 भी भारतीय कप्तान विराट कोहली के लिए काफी खास रहा। उन्होंने वनडे क्रिकेट में सबसे तेज दस हजार रन बनाने का रिकॉर्ड बनाया। इस मामले में विराट ने महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ा। इसके अलावे उन्होंने सबसे तेज 60 इंटरनेशनल शतक का रिकॉर्ड भी बनाया। साल 2018 में कप्तान कोहली ने 11 वनडे मैचों में 149.42 की औसत से 1,046 रन बनाए। जिसमें 5 शतक और 3 अर्धशतक शामिल थे।

7 पीवी सिंधु

बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु के लिए साल 2018 कुछ खास नहीं रहा था क्योकि वह पांच टूर्नामेंट के फाइनल्स में हार चुकी थी। लेकिन वर्ल्ड टूर फाइनल्स में पीवी सिंधु ने नोजोमी ओकुहारा को 21-19, 21-17 से हराकर साल को यादगार बना दिया। बता दें कि पीवी सिंधु ने साल 2018 में कॉमनवेल्थ गेम्स, एशियन गेम्स और वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल भी जीता था।

8 हिमा दास

असम के एक छोटे से गाँव की एथलीट हिमा दास साल 2018 में इतना तेज दौड़ी कि इतिहास ही बन गया। 18 वर्षीय हिमा ने IAAF वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप में 400 मी. रेस में गोल्ड जीत कर इतिहास ही रच दिया। उन्होंने यह कारनामा सिर्फ 51.46 सेकेंड में किया। हिमा के इस खास उपलब्धि पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी उन्हें बधाई देने से खुद को रोक नहीं सके।

9 मैरी कॉम

तीन बच्चों की मां और 36 वर्षीय मुक्केबाज मैरी कॉम ने अपने शानदार प्रदर्शन से साल 2018 में दुनिया को हैरान कर दिया। इस उम्र में भी मैरी कॉम ने छठी बार वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब जीतकर इतिहास रच दिया। इस जीत के साथ ही मैरी कॉम वर्ल्ड चैंपियनशिप के इतिहास की सबसे सफल महिला मुक्केबाज भी बन गई है।

10 स्वप्ना बर्मन

पश्चिम बंगाल की जलपाईगुड़ी की रहने वाली एक रिक्शाचालक की बेटी स्वप्ना बर्मन ने एशियन गेम्स 2018 में महिलाओं की हेप्टाथलान स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीतकर देश का मान बढ़ा दिया। हेप्टाथलान में स्वर्ण पदक जीतने वाली स्वप्ना पहली भारतीय महिला खिलाड़ी हैं। बता दें कि एक समय स्वप्ना को अपने लिए सही जूतों के लिए भी संघर्ष करना पड़ता था क्योंकि उनके दोनों पैरों में छह-छह उंगलियां हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story