Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

विंबलडन: वीनस को हराकर गार्बाइन मुगुरूजा बनी विंबलडन की नई रानी

दो साल पूर्व अपने पहले विंबलडन फाइनल में वीनस की बहन सेरेना से हार गई थीं।

विंबलडन: वीनस को हराकर गार्बाइन मुगुरूजा बनी विंबलडन की नई रानी
X

स्पेन की गार्बाइन मुगुरूजा ने शनिवार को यहां सेंटर कोर्ट में पांच बार की चैंपियन वीनस विलियम्स को आसानी से सीधे सेट में 6-4, 6-0 से शिकस्त देकर पहला विंबलडन महिला एकल ग्रैंडस्लैम खिताब अपनी झोली में डाला।

मुगुरूजा ने शानदार खेल दिखाते हुए वीनस को 77 मिनट में पस्त कर उनकी इतिहास रचने की उम्मीद तोड़ दी और इस तरह वह विंबलडन जीतने वाली दूसरे स्पेनिश खिलाड़ी बन गई।

इसे भी पढ़े:- रोजर फेडरर की नजरें अपने 8वें विंबलडन खिताब की ओर

वह दो साल पूर्व अपने पहले विंबलडन फाइनल में वीनस की बहन सेरेना से हार गई थीं। मुगुरूजा की मौजूदा कोच कोंचिटा मार्टिनेज ने ही 1994 में विंबलडन में स्पेनिश झंडा लहराया था,

जिसमें उन्होंने मार्टिना नवरातिलोवा को पराजित किया था। इस 23 वर्षीय खिलाड़ी ने जीत के बाद कहा, ‘पहला सेट कठिन था। हम दोनों के पास काफी मौके थे।

लेकिन मुझे खुशी है कि मैंने मिले मौकों का फायदा उठाया। दो साल पहले मैं सेरेना के खिलाफ फाइनल में हार गई थी और उसने मुझे कहा था कि एक दिन मैं खिताब जीतूंगी। आज अंतत: यह हो गया।'

इसे भी पढ़े:- आमिर खान से कभी भी लड़ने को तैयार हूं: विजेंदर सिंह

वीनस रिकार्ड बनाने से चूकी

वेनेजुएला में जन्मीं मुगुरूजा ने पिछले साल फ्रेंच ओपन ट्राफी जीती थी, यह उनका दूसरा ग्रैंडस्लैम खिताब है। उन्होंने इस तरह वीनस को ओपन युग में सबसे उम्रदराज विंबलडन चैंपियन बनने से रोक दिया।

वीनस ने आठ साल बाद विंबलडन के फाइनल में प्रवेश किया, वह छठा आल इंग्लैंड क्लब खिताब जीतने की उम्मीद लगाई थी। उन्होंने नौ साल पहले यहां अंतिम ट्राफी हासिल की थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story