Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पिता के निधन पर पहली बार बोले विराट कोहली, कहा सब कुछ खत्म हो..सिर्फ बचा था..

भारतीय कप्तान विराट कोहली जब 17 साल के थे तभी 18 दिसंबर 2006 को उनके पिता प्रेम कोहली का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

पिता के निधन पर पहली बार बोले विराट कोहली, कहा सब कुछ खत्म हो..सिर्फ बचा था..

किसी भी शख्स के लिए उसके शुरुआती करियर के दौरान ही पिता का साया सिर से उठ जाना कितना दुखद होता है ये तो वहीं शख्स समझ सकता है जिसने इसका सामना किया हुआ हो।

कुछ ऐसा ही वाकया भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ हुआ था। विराट कोहली जब 17 साल के थे तभी 18 दिसंबर 2006 को उनके पिता प्रेम कोहली का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

इसे भी पढ़ें: IND vs PAK Live Score: पाकिस्तान को लगा दूसरा झटका, फखर जमान को कुलदीप ने किया चलता

ऐसी स्थिति तो कोई भी टूट जाता है लेकिन विराट तो अलग ही मिटटी के बने थे। फिर इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। जिस समय विराट कोहली के पिता का निधन हुआ था उस समय कोहली दिल्ली के लिए कर्नाटक के खिलाफ अपना रणजी डेब्यू कर चुके थे।

और वो दिल्ली की टीम के लिए खेल रहे थे। पिता के निधन की खबर मिलने के बाद वह घर पहुंचे और अपने पिता की लाश को देखने के बाद फिर खेलने चल पड़े। इसके बाद उन्होंने 90 रनों की बेहतरीन पारी खेली और घर पहुंचकर पिता का अंतिम संस्कार किया।

विराट को सुबह 3 बजे मिली पिता के निधन की खबर

विराट कोहली ने अपने पिता के निधन के बारे में बताया- तड़के करीब 3 बजे घर से कॉल आया कि ब्रेन स्टोक के चलते उनके पिता का निधन हो गया। अब उनके सामने एक बड़ी चुनौती थी।

एक तरफ जहां पिता का निधन हो चुका था और वहीं दूसरी तरफ रणजी में उनकी टीम को उनकी जरूरत थी। मैं उस समय 40 रन पर खेल रहा था और चार दिन के रणजी मैच में हमारी टीम फंसी हुई थी।

इस मुश्किल घड़ी में फैसला लेने में मदद के लिए अपने कोच राजकुमार शर्मा को फोन किया।उस समय उनके कोच ऑस्ट्रेलिया में थे और जब कोहली ने उनसे ये बात की तो उन्होंने कहा कि तुम्हारे पिता चाहते थे कि तुम टीम इंडिया के लिए खेलो।

Share it
Top