Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IND vs SA: हार के बाद कोहली का पत्रकारों पर फूटा गुस्सा, कह दी ये बड़ी बात, देखें VIDEO

सेंचुरियन टेस्ट में हार से बौखलाए कप्तान विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों पर भड़क उठे।

IND vs SA: हार के बाद कोहली का पत्रकारों पर फूटा गुस्सा, कह दी ये बड़ी बात, देखें VIDEO

घर के शेर भारतीय बल्लेबाजों ने आज एक बार फिर दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजी आक्रमण के सामने घुटने टेक दिए जिससे टीम को दूसरे टेस्ट में 135 रन की शिकस्त का सामना करना पड़ा। जिससे विराट कोहली की टीम के लगातार नौ टेस्ट श्रृंखला जीतने के अभियान पर भी विराम लग गया।

पहले टेस्ट में 72 रन से जीत दर्ज करने वाली दक्षिण अफ्रीका ने इस तरह तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली। दक्षिण अफ्रीका के 287 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम असमान उछाल वाली सुपर स्पोर्ट्स पार्क की पिच पर पांचवें और अंतिम दिन दूसरी पारी में 50 .2 ओवर में 151 रन पर ढेर हो गई।

इसे भी पढ़े: IND vs SA: जीत के बाद अफ्रीका को लगा झटका, ICC ने ठोका भारी जुर्माना

कोहली का पत्रकारों पर फूटा गुस्सा

हार से बौखलाए कप्तान विराट कोहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में काफी गुस्से में नजर आए। सेंचुरियन टेस्ट में कोहली से जब प्लेइंग इलेवन को खिलाने पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने पत्रकारों से कहा- आप मुझे बता दें कि बेस्ट प्लेइंग इलेवन क्या होती है। हम उसी के साथ खेलने के लिए तैयार हैं। कोहली ने यह भी कहा कि हम नतीजों के हिसाब से प्लेइंग इलेवन नहीं चुनते।

भारत ने पहले दो मैचों में अंजिक्य रहाणे के स्थान पर रोहित शर्मा को उतारा। इसके अलावा कुछ अन्य खिलाड़ियों का चयन भी चौंकाने वाला रहा। कोहली ने कहा-मैं कह रहा हूं कि हार से निश्चित तौर पर हम आहत हैं लेकिन आप एक फैसला करते हो तो आपको उसका समर्थन करना होता है। हम यहां यह नहीं कह सकते कि तुम एक मैच में नाकाम रहे, तुम इस स्तर पर खेलने के लिये अच्छे नहीं हो।

क्या हम भारत में नहीं हारे थे जब हम वहां सर्वश्रेष्ठ एकादश के साथ खेले थे? उन्होंने कहा- जिसे भी चुना जाए वह टीम की तरफ से भूमिका निभाने के लिये अच्छा होना चाहिए। इसलिए हम इतनी बड़ी टीम के साथ यहां आये हैं। वे इस स्तर पर खेलने के लिये अच्छे हैं लेकिन आपको सामूहिक प्रदर्शन करने की जरूरत होती है। आप यह नहीं कह सकते कि कौन सर्वश्रेष्ठ एकादश है। हम पहले भी ऐसी टीमों के साथ खेले हैं जो वास्तव में मजबूत दिखती थी लेकिन हमें हार झेलनी पड़ी थी।

कोहली से इसके बाद उनकी कप्तानी में खेले गये हर टेस्ट मैच में अलग टीम उतारने के बारे में सवाल किया गया तथा यह भी पूछा गया कि क्या इतने अधिक बदलाव टीम की हार का कारण है। उन्होंने कहा- हम 34 में से कितने टेस्ट मैच जीते हैं? हमने कितने मैच जीते हैं? 21 जीते हैं (असल में 20)। दो (असल में पांच) हारे हैं। कितने ड्रा रहे? क्या यह मायने रखता है? हम जहां भी खेलते हैं वहां अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करते हैं।

हार का ठीकरा बल्लेबाजों पर फोड़ा

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज सेंचुरियन में कहा कि बल्लेबाजों की नाकामी के कारण उनकी टीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला गंवानी पड़ी। कोहली ने मैच के बाद कहा- हम अच्छी भागीदारी करने और बढ़त बनाने में नाकाम रहे। हम हार के लिये स्वयं जिम्मेदार हैं।

गेंदबाजों ने अपनी भूमिका अच्छी तरह से निभायी लेकिन बल्लेबाजों के कारण टीम को हार का मुंह देखना पड़ा। उन्होंने कहा- हमने कोशिश की लेकिन हम बहुत अच्छे साबित नहीं हुए विशेषकर क्षेत्ररक्षण विभाग में। उन्होंने कहा कि भारतीय टीम ने सेंचुरियन का विकेट समझने में गलती की।

Share it
Top