Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंडर-19 विश्व कप: खिताब जीतने वाली भारतीय टीम पर बीसीसीआई मेहरबान, की इनामों की घोषणा

ऑस्ट्रेलिया द्वारा दिए गए 217 रनों का पीछा करते हुए भारत ने 2 विकेट पर 220 रन बनाकर इस मैच को 8 विकेट से जीतकर चौथी बार विश्व कप अपने नाम कर लिया।

अंडर-19 विश्व कप: खिताब जीतने वाली भारतीय टीम पर बीसीसीआई मेहरबान, की इनामों की घोषणा
X

अंडर-19 विश्व कप के फाइनल मुकाबले में भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया से टकराने को मैदान में उतरी थी। न्यूजीलैंड में चल रहे अंडर-19 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीत पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। 47.2 ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 216 पर समेट कर भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। ऑस्ट्रेलिया द्वारा दिए गए 217 रनों का पीछा करते हुए भारत ने 2 विकेट पर 220 रन बनाकर इस मैच को 8 विकेट से जीतकर चौथी बार विश्व कप अपने नाम कर लिया।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने अंडर-19 विश्व कप विजेता टीम पर इनामों की बारिश कर दी। बीसीसीआई ने ट्वीट करके सभी खिलाड़ियोंं 30-30 लाख रुपए एवं सपोर्टिंग स्टाफ को 20 लाख रुपए के इनाम की घोषणा की वहीं कोच राहुल द्रविड़ को 50 लाख रुपए इनाम देने की घोषणा की है।

भारत अंडर -19 स्कोर

131 रन के स्कोर पर भारत को दूसरा झटका लग गया, पिछले मैच के स्टार बल्लेबाज शुभमन गिल 31 रन बनाकर पेवेलियन लौट गए। 71 रन के स्कोर पर भारत को पहला झटका लगा, कप्तान पृथ्वी शॉ 29 रन बनाकर पेवेलियन लौट गए। मनजोत कॉलरा ने अपना शतक पूरा किया। विश्व कप फाइनल में ये किसी भारतीय खिलाड़ी का दूसरा शतक है। इससे पहले उन्मुक्त चंद ने 2014 के विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक लगाया था।

217 रनों का पीछा करते हुए भारत ने 35 ओवर की समाप्ति पर 196 रन बना लिए हैं। दोनों ही ओपनर ने भारत को धमाकेदार शुरुआत दिलाई है। 4 ओवर की गेंदबाजी होते ही बारिश ने मैच में खलल डाल दी थी। भारत को जीतने के लिए अभी 60 रनों की दरकार है, वहीं 22 ओवरों का खेल होना अभी बांकी है। बारिश रूकते ही खेल दुबारा शुरु हो गया है। मैच के लक्ष्य में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

ऑस्ट्रेलिया अंडर -19 का स्कोर

47.2 ओवर में ऑस्ट्रेलिया को 216 पर समेट कर भारतीय गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। ईशान पोरेल, शिवा सिंह, नागरकोटी और अनुकूल राय ने दो-दो विकेट झटके जबकि शिवम मावी ने एक खिलाड़ी को पेवेलियन भेजा। भारतीय क्षेत्ररक्षण भी शानदार रही। मौजूदा भारतीय टीम के प्रदर्शन को देखते हुए लक्ष्य आसान होगा। अगर भारत इस फाइनल को जीत लेता है तो ये भारत की चौथी विश्व कप खिताब होगी।

आपको बता दें कि ऑस्ट्रेलिया की टीम ने सधी हुई शुरूआत की थी लेकिन पिछले मैंच के हीरो रहे ईशान पोरेल ने इस मैच में भी अपनी बेहतरीन गेंदबाजी जारी रखी। ईशान ने दो आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को पेवेलियन भेज दिया।

ईशान का बखूबी साथ दिया कमलेश नागरकोटी ने, जिन्होंने इनके मध्यम क्रम के बल्लेबाज एवं कप्तान संघा को पेवेलियन भेजकर इस मैच में भारत की पकड़ बना दी। मध्यम क्रम के बल्लेबाज मर्लो ने अर्धशतक लगाकर जरूर ऑस्ट्रेलिया के स्कोर को 200 रनों तक पहुंचाया लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने लगातार विकेट चटकाकर मैच पर शिकंजा कस लिया।

शुरूआती झटको से उबारने की कोशिश में मर्लो और उप्पल के बीच 75 रनों की साझेदारी को स्पिनर अनुकूल राय ने तोड़ दी। जिसकी वजह से भारत एक बार फिर से खेल में वापस आ गई।

करोड़ों हिंदुस्तानी क्रिकेट प्रेमियों की नजरें इस मुकाबले पर लगी हुई हैं। बता दें कि मैच माउंट माउगाउनी (बे ओवल) में खेला जा रहा है। आस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया है। भारतीय टीम नें आस्ट्रेलिया को शुरूआती झटके देकर तीन विकेट चटका दिए हैं।

फाइनल में भारतीय टीम की नजरें चौथा खिताब जीतकर इतिहास रचने पर लगी टिकी हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट के इतिहास की दो सबसे सफल टीमें हैं जो तीन-तीन बार खिताब जीत चुकी हैं। भारत ने मोहम्मद कैफ ( 2002 ), विराट कोहली (2008) और उन्मुक्त चंद ( 2012 ) की अगुवाई में जूनियर वर्ल्‍डकप जीता था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story