Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उमेश यादव ने इस खिलाड़ी को ठहराया उनका करियर खत्म करने का जिम्मेदार, इस मामले में सचिन का किया समर्थन

उमेश यादव ने टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पांच साल बाद वापसी करते हुए आयरलैंड के खिलाफ दूसरा टी20 मैच खेला और इस दौरान 19 रन देकर दो विकेट चटकाए।

उमेश यादव ने इस खिलाड़ी को ठहराया उनका करियर खत्म करने का जिम्मेदार, इस मामले में सचिन का किया समर्थन
X

मालाहाइड। सचिन तेंदुलकर के एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में दो नई गेंदों के इस्तेमाल को ‘तबाही का साधन' कहने के बाद अब भारत के तेज गेंदबाज उमेश यादव ने भी इसकी निंदा करते हुए कहा कि इससे रिवर्स स्विंग की कला खत्म हो रही है और तेज गेंदबाजों को नुकसान पहुंच रहा है।

आईसीसी ने 2011 में दो नयी गेंद के इस्तेमाल के नियम को लागू किया था। इसके बाद से बड़े स्कोर वाले मैचों की संख्या में इजाफा हुआ और हाल ही में इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 50 ओवर में विश्व रिकॉर्ड 481 रन बनाए।

उमेश ने कहा- दो नई गेंदों के कारण तेज गेंदबाजों के लिए रनों पर अंकुश लगाना मुश्किल हो गया है। अगर एक ही गेंद होती है तो यह लगातार पुरानी होती रहती है और आप इसे रिवर्स स्विंग करा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: #IREvIND: भारत की सबसे बड़ी जीत, आयरलैंड को 143 रन से रौंदा, राहुल-रैना का अर्धशतक, चहल-कुलदीप ने झटके तीन-तीन विकेट

दो गेंद के साथ रिवर्स स्विंग एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में अब बामुश्किल नजर आती है, यह तेज गेंदबाजों के लिए मुश्किल है विशेषकर तब जब वह सही लेंथ से गेंदबाजी नहीं कर पाएं या यार्कर सही नहीं फेंक पाएं तो।

इस तेज गेंदबाज ने इंग्लैंड में दो नई गेंदों के इस्तेमाल के साथ गेंदबाजों के सामने आ रही दिक्कतों पर भी बात की। उन्होंने कहा- अगर डेथ ओवरों में गेंद मूव नहीं कर रही है तो इस दबाव से निपटना काफी मुश्किल होता है विशेषकर जब विकेट सपाट हो।

उमेश ने कहा- आजकल हमने देखा है कि विकेट काफी सपाट होते हैं और इंग्लैंड में वे अब नियमित तौर पर इस तरह के विकेटों पर खेलते हैं। वह 480 रन बना रहे हैं तो निश्चित तौर पर गेंदबाजों के लिए काफी चुनौतीपूर्ण स्थिति है।

इसे भी पढ़ें: ENG vs IND 2018: वनडे क्रिकेट में इंग्लैंड की धरती पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले टॉप-5 भारतीय बल्लेबाज

उन्होंने कहा- हम इस चुनौती के लिए तैयार हैं क्योंकि हम अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं और हम इंग्लैंड में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। उमेश अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कम मौके मिलने से निराश नहीं हैं और उन्होंने कहा कि वह आगामी दौरे पर इंग्लैंड के खिलाफ खेलने को बेताब हैं।

उमेश ने टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पांच साल बाद वापसी करते हुए आयरलैंड के खिलाफ दूसरा टी20 मैच खेला और इस दौरान 19 रन देकर दो विकेट चटकाए। मेजबान टीम को इस मैच में 143 रन से हार का सामना करना पड़ा।

हाल के समय में उमेश को प्रदर्शन में सबसे अधिक सुधार करने वाला गेंदबाज माना जाता है लेकिन इसके बावजूद वह लगभग पूरे घरेलू सत्र से बाहर रहे और इसके बाद दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी उन्हें मौका नहीं मिला।

उमेश ने अधिक मौके नहीं मिलने पर कहा- फिलहाल टीम काफी संतुलित है। भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह अच्छा कर रहे हैं और फिर मोहम्मद समी जैसे तेज गेंदबाज भी हैं। उन्होंने कहा- इसलिए मौके मिलना मुश्किल है।

टीम प्रबंधन हालांकि हमें खेलने का मौका देने का सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहा है। वे रोटेशन का प्रयास कर रहे हैं और सभी तेज गेंदबाजों को मौका दे रहे हैं इसलिए मैं सिर्फ इन मौकों का इंतजार कर रहा हूं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story