Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सिर्फ 67 रन पर सिमटी पारी और दो दिन में खत्म हुआ ये टेस्ट मैच, 50 साल में दूसरी बार

मोर्ने मोर्कल और केशव महाराज की घातक गेंदबाजी से दक्षिण अफ्रीका ने चार दिवसीय दिन रात्रि टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन ही बुधवार को जिम्बाब्वे को पारी और 120 रन से करारी शिकस्त दी।

सिर्फ 67 रन पर सिमटी पारी और दो दिन में खत्म हुआ ये टेस्ट मैच, 50 साल में दूसरी बार

मोर्ने मोर्कल और केशव महाराज की घातक गेंदबाजी से दक्षिण अफ्रीका ने चार दिवसीय दिन रात्रि टेस्ट क्रिकेट मैच के दूसरे दिन ही बुधवार को जिम्बाब्वे को पारी और 120 रन से करारी शिकस्त दी।

दक्षिण अफ्रीका ने मैन आफ द मैच एडेन मार्कराम की 125 रन की पारी की मदद से अपनी पहली पारी नौ विकेट पर 309 रन पर समाप्त घोषित की और इसके बाद जिम्बाब्वे को दोनों पारियों में मिलाकर 72.4 ओवरों में समेटकर आसानी से जीत दर्ज की।

इसे भी पढ़े: AUS vs ENG : ''कुछ ऐसे'' सहवाग और सचिन के सिर पर सवार हुए एलेस्टर कुक, लारा को पीछे छोड़ा

पिछले 12 वर्षों में यह तीसरा अवसर है जबकि कोई टेस्ट मैच दो दिन तक चला और इन सभी अवसरों पर हारने वाली टीम जिम्बाब्वे की थी। पिछले 50 साल में यह दूसरा सबसे छोटा टेस्ट मैच रहा, जिसमें 907 गेंदों में ही नतीजा आ गया।

तेज गेंदबाज मोर्कल ने जिम्बाब्वे की पहली पारी में 21 रन देकर पांच विकेट लिए और उसकी पूरी टीम को 30.1 ओवर में 68 रन पर ढेर करने में अहम भूमिका निभाई। मोर्कल के अलावा कैगिसो रबादा और एंडिल फेलुकवायो ने दो-दो विकेट लिए।

बाएं हाथ के स्पिनर महाराज ने दूसरी पारी में कमाल दिखाया और 59 रन देकर पांच विकेट लिए जिससे फालोआन के लिए उतरी जिम्बाब्वे की टीम 42.3 ओवर में 121 रन पर सिमट गई। महाराज के अलावा फेलुकवायो ने 13 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।

जिम्बाव्वे की टीम अपनी पहली पारी में 68 रनों पर सिमट गई, 2017 में यह सबसे कम स्कोर है

68 रन- जिम्बाब्वे विरुद्ध द. अफ्रीका

81 रन- पाकिसस्तान विरुद्ध वेस्टइंडीज

90 रन- बांग्लादेश विरुद्ध द. अफ्रीका

96 रन- श्रीलंका विरुद्ध पाकिस्तान

105 रन - भारत विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया

107 रन भारत विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया

110 रन- श्रीलंका विरुद्ध द. अफ्रीका

Share it
Top