Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आईपीएल में इस वजह से गई धोनी की कप्तानी

संजीव गोयनका ने कहा है कि धोनी ने कप्तानी छोड़ी नहीं है।

आईपीएल में इस वजह से गई धोनी की कप्तानी
नई दिल्ली. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया 2007 में टी-20 विश्वकप विजेता बना चुकी थी। इसके बाद साल 2008 में आईपीएल की शुरुआत हुई थी तो हर कोई धोनी को अपनी टीम में शामिल करना चाहता था। तभी बाजी मारी थी एन श्रीनिवास की इंडिया सीमेंट्स की टीम ने जिसने चेन्नई सुपर किंग्स फ्रेंचाइजी को खरीदा था। श्रीनिवासन को धोनी पर इतना यकीन था कि लगातार आठ सीजन तक धोनी चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान बने रहे और 'यलो डेविल्स' के रूप में चेन्नई सुपर किंग्स की नई पहचान बनाई। अब धोनी ने आईपीएल के 10वें सीजन में पुणे सुपरजाइंट्स के कप्तान से हटा दिया गया है। लेकिन संजीव गोयनका ने कहा है कि धोनी ने कप्तानी छोड़ी नहीं है।
आईपीएल के 9 सीजन तक बतौर कप्तान खेलने वाले टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को आईपीएल फ्रेंचाइजी पुणे सुपरजाइंट्स के कप्तान से हटा दिया गया है। उनकी जगह ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ लेंगे। धोनी को कप्तानी से हटाए जाने की पुष्टि करते हुए टीम के मालिक संजीव गोयनका ने बताया कि हमने आईपीएल के आगामी सीजन के लिए स्टीव स्मिथ को कप्तान बनाने का फैसला किया है। मैं इस बारे में पिछले सीजन के खत्म होने के बाद से सोच रहा था और इस बारे में टीम प्रबंधन से बात भी कर रहा था।
गोयनका ने बताया, धोनी ने कप्तानी नहीं छोड़ी है। हमने स्टीव स्मिथ को नया कप्तान नियुक्त किया है। हमारा विचार था कि इस साल टीम की कमान एक युवा खिलाड़ी को सौंपी जाए। हमारे पास टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा मेल है और हमें लगता है कि एक युवा नेतृत्व, जिसके पास अलग आइडिया हो उसे टीम का कप्तान बनाया जाना चाहिए।
साल 2016 में धोनी की कप्तानी में पुणे सुपरजाइंट्स की टीम ने बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया था। पुणे 14 में से 5 मैच जीतकर अंक तालिका में 7वें स्थान पर रही थी। ऐसे में धोनी की कप्तानी से हटाए जाने को लेकर मैनेजमेंट आपस में विचार कर रहा था लेकिन सीजन-10 के लिए 21 फरवरी को बैंगलुरु होने वाली नीलामी से पहले फ्रेंचाइजी ने धोनी को कप्तानी से हटाने का निर्णय ले लिया।
पुणे के कप्तान के रूप में भी धोनी का बल्ला खामोश रहा था आईपीएल के 143 मैचों में 39.39 की औसत से 3271 रन बनाने वाले धोनी के बल्ले से केवल 284 रन निकले थे। वह पूरे सीजन में केवल एक हॉफ सेंचुरी बना सके थे। संजीव गोयनका ने कहा कि धोनी के प्रति एक कप्तान और खिलाड़ी के रूप में मेरे मन में बहुत सम्मान है। धोनी आगे भी हमारी टीम के लिए बतौर विकेट कीपर बल्लेबाज महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेंगे। फ्रेंचाइजी के बेहतर प्रदर्शन के लिए वह हमारे निर्णय के समर्थन में हैं।
धोनी दो आईपीएल खिताब जीतने वाले पहले कप्तान थे। उनके अतिरिक्त रोहित शर्मा और गौतम गंभीर मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए यह कारनाम कर चुके हैं। धोनी ने अब तक आईपीएल में 143 मैच खेले हैं वे इन सभी मैचों में बतौर कप्तान खेले यह अपने आप में एक अनोखा रिकॉर्ड है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top