Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये है कैप्टन कूल की कप्तानी छोड़ने की असली वजह

धोनी इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली एकदिवसीय और टी-20 सीरीज में टीम की कमान नहीं संभालेंगे।

ये है कैप्टन कूल की कप्तानी छोड़ने की असली वजह
मुंबई. टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान और कैप्टन कूल के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी ने टी-20 और एकदिवसीय मैचों (ओडीआइ) की कप्तानी छोड़ दी है। बता दें कि 15 जनवरी से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू होने वाली एकदिवसीय और टी-20 सीरीज के लिए नए कप्तान का ऐलान होगा। धोनी की कप्तानी में भारत की तरफ से 199 वनड-डे मैचों में कप्तानी की, जिसमें भारत को 110 मैचों में जीत मिली और भारत 74 मैच हार चुका है।
एक तरफ जहां विराट कोहली के आगे बढ़ने का दौरा चल रहा है तो वहीं दूसरी तरफ छोनी पर कप्तानी छोड़ने को लेकर भी कई बार मीडिया में दबाव की बाते सामने आई। धोनी ने अचानक यह फैसला क्यों लिया इस पर ना तो बीसीसीआइ ने कुछ कहा है और ना ही धोनी की तरफ से प्रतिक्रिया सामने आई है। कप्तानी छोड़ने के उनके फैसले को लेकर अटकलों का दौर शुरू हो गया है। क्रिकेट के जानकार उनके इस फैसले के पीछे कई कारण गिना रहे हैं।
पिछले कुछ वनडे सीरीज में भारतीय टीम का प्रदर्शन अपेक्षा अनुरूप नहीं रहा। इस वजह से वह दबाव में भी थे। दूसरी तरफ कहा जा रहा है कि वह 2019 विश्व कप के लिए नए कप्तान को पर्याप्त समय देना चाहते हैं। अभी अगले वर्ल्ड कप में 2 साल का समय बचा है, ऐसे में अगले कप्तान, जोकि संभवत: विराट कोहली ही होंगे, को अपने मुताबिक वनडे टीम तैयार करने का मौका मिलेगा।
एनबीटी
के मुताबिक, जानकारों का कहना है कि धोनी अगला वर्ल्ड कप खेलना चाहते हैं। वह इसके लिए खुद को फिट रखना चाहते हैं। इसी वजह से उन्होंने 2014 में टेस्ट क्रिकेट को भी अलविदा कह दिया था। अब विकेटकीपर-बल्लेबाज के तौर पर धोनी अपने खेल पर फोकस कर सकेंगे।
बता दें कि कप्तान के रूप में धोनी का व्‍यक्तिगत प्रदर्शन भी शानदार रहा है। कप्तान के रूप में 199 मैच खेलते हुए धोनी ने करीब 54 के औसत से 6,633 रन बनाए, जिसमें छह शतक और 47 अर्धशतक शामिल हैं। उन्होंने कपिल देव के बाद भारत को वर्ल्ड कप जीताने वाले दूसरे भारतीय कप्तान है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top