Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

36 की उम्र में 26 साल वालों पर भारी हैं धोनी, पढ़िए पूरी कहानी

पिछले कुछ अर्से में धोनी की बतौर बल्लेबाज काफी आलोचना हुई है हालांकि उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला में उम्दा प्रदर्शन करके अपने आलोचकों को खामोश किया।

36 की उम्र में 26 साल वालों पर भारी हैं धोनी, पढ़िए पूरी कहानी
X

भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री का मानना है कि महेंद्र सिंह धोनी भारतीय वनडे टीम का फिलहाल अभिन्न हिस्सा हैं और अपने से 10 साल जूनियर खिलाड़ियों से अधिक फिट और चुस्त हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि धोनी में खामियां तलाशने की बजाय आलोचकों को अपने करियर का विश्लेषण करना चाहिए।

पिछले कुछ अर्से में धोनी की बतौर बल्लेबाज काफी आलोचना हुई है हालांकि उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला में उम्दा प्रदर्शन करके अपने आलोचकों को खामोश किया।

इसे भी पढ़े: क्रिकेट सितारों के बेटे विश्व कप में बिखेरेंगे जलवा, जानिए किस किसके हैं बेटे

शास्त्री ने इंडिया टुडे से कहा- हम मूर्ख नहीं हैं। मैं पिछले 30-40 साल से यह खेल देख रहा हूं। विराट भी एक दशक से टीम का हिस्सा है।

हमें पता है कि इस उम्र में भी धोनी 26 साल के खिलाड़ियों पर भारी हैं। जो लोग आलोचना कर रहे हैं, वे भूल गए हैं कि उन्होंने भी क्रिकेट खेला है।

विकेट के पीछे धोनी की मुस्तैदी का जवाब नहीं और मुख्य चयनकर्ता एमएके प्रसाद ने साफ तौर पर कहा कि युवा खिलाड़ियों में कोई भी उनके समकक्ष नहीं है। शास्त्री ने भी उनका समर्थन किया।

उन्होंने कहा- यदि वे खुद को आइने में देखें और सवाल करें कि वे 36 बरस की उम्र में क्या थे। क्या वे दो रन इतनी तेजी से भाग सकते थे।

जब तक वे दो रन लेते, धोनी तीन रन भाग लेता है। उसने दो विश्व कप जीते और 51 की औसत से। अभी तक वनडे टीम में उसकी जगह लेने लायक कोई विकेटकीपर नहीं है।

इसे भी पढ़े: इस खूबसूरत लड़की से 10 साल तक रहा इरफान पठान का अफेयर, ऐसे शादी होते-होते टूटी

दुनिया में सर्वश्रेष्ठ में से एक

शास्त्री ने कहा, वह भारत में ही नहीं, दुनिया में सर्वश्रेष्ठ में से एक है। उसके पास ऐसे गुण हैं जो बाजार में नहीं मिलते हैं। यह आपको कहीं और नजर नहीं आएंगे।

वह टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलता है जिसके मायने हैं कि वह 2019 विश्व कप तक क्रिकेट खेल सकता है।

आगामी दक्षिण अफ्रीका दौरे के बारे में उन्होंने कहा, हमारे लिए सभी विरोधी टीमें समान हैं। सभी विरोधियों का सम्मान करना चाहिए और हर मैच घरेलू मैच की तरह है।

दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी ऐसा ही होगा। इस टीम के पास कुछ खास करने का मौका है। हम वहां जीतने के इरादे से ही जाएंगे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story