Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

17 साल के पृथ्‍वी शॉ मुंबई रणजी टीम में शामिल

स्‍कूली क्रिकेट में 546 रन बड़ी पारी खेलकर धूम मचा चुके हैं।

17 साल के पृथ्‍वी शॉ मुंबई रणजी टीम में शामिल
नई दिल्‍ली. क्रिकेट की दुनिया में एक से एक बल्लेबाज आ रहे है और जो नौजवान पीड़ी है वो तेजी से इस तरफ आ रही है। मौजूदा चैंपियन मुंबई ने तमिलनाडु के खिलाफ होने वाले रणजी ट्रॉफी के सेमीफाइनल मैच के लिए बुधवार को टीम की घोषणा कर दी। मुंबई की टीम में पृथ्वी शॉ को शामिल किया गया है। पृथ्वी को पहली बार मुंबई की रणजी टीम में जगह मिली है। मुंबई और तमिलनाडु के बीच सेमीफाइनल मैच एक जनवरी से राजकोट में खेला जाएगा। 17 साल के पृथ्वी टीम में केविन एलमेडा की जगह चुने गए हैं।
बता दें कि 17 साल के शॉ ने जूनियर स्तर पर अपनी असाधारण प्रतिभा का प्रदर्शन किया था। शॉ ने तीन साल पहले पृथ्वी ने हैरिस शील्ड स्कूल टूर्नामेंट में 2013 में यह कारनामा किया था। हैरिस शील्ड स्कूल गेम में 546 रन का रिकॉर्ड स्कोर बनाया था, जिसे इस साल जनवरी में प्रणव धनावड़े ने तोड़ा था। हालांकि, मुंबई को चोटिल होने की वजह से अनुभवी तेज गेंदबाज धवल कुलकर्णी की कमी खलेगी। यदि पृथ्‍वी शॉ को एक जनवरी को सेमीफाइनल में मुंबई की प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान मिलता है तो क्रिकेटप्रेमियों को उम्‍मीद है कि वे सचिन तेंदुलकर की तरह ही पहले रणजी मैच में ही बड़ा धमाका कर नए वर्ष 2017 को अपने लिए यादगार बना लेंगे।
सचिन तेंदुलकर ने रणजी ट्रॉफी अपने पहले ही मैच में धमाकेदार शतक जड़कर ऊंचाई हासिल की और उसके बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा। बाद में उन्‍होंने टीम इंडिया में जगह बनाई और विश्‍व क्रिकेट में कई सालों तक चकाचौंध बिखेरी। रणजी ट्रॉफी ही क्‍या, सचिन ने अपने पहले ईरानी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी मैच में भी शतक बनाया था। 10 दिसंबर, 1988 को मुंबई की ओर से सचिन ने अपना पहला रणजी ट्रॉफी मैच खेला था। गुजरात के खिलाफ इस मैच में उन्‍होंने शतक जमाया था इस मैच की पहली पारी में सचिन चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करने उतरे थे और उन्होंने 129 गेंदों का सामना करते हुए 100 रन बनाए, जिसमें 14 चौके शामिल थे।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top