Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Year Ender 2021: ओलंपिक और पैरालंपिक में इस साल भारत ने रचा इतिहास, जीते थे 26 पदक

हरियाणा (Haryana) के रहने वाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने जैवलिन थ्रो (Javelin Throw) में स्वर्ण पदक जीतकर देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। नीरज से पहले सिर्फ अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ही यह कारनामा कर पाए थे। इसके अलावा मीराबाई चानू, रवि दाहिया, लवलीना और पीवी सिंधु जैसे खिलाड़ियों ने भी भारत के लिए अच्छा खेल प्रदर्शन करते हुए कई और पदक भी जीते।

Year Ender 2021: ओलंपिक और पैरालंपिक में इस साल भारत ने रचा इतिहास, जीते थे 26 पदक
X

खेल। कोरोना (Corona) महामारी के चलते 2020 में आयोजित होने वाले ओलंपिक और पैरालंपिक को इस साल 2021 में आयोजित किया गया। इन दोनों ही खेलों में भारत की ओर से शानदार प्रदर्शन देखने को मिला। इस साल भारतीय खिलाड़ियों ने ओलंपिक और पैरालंपिक अच्छा खेलते हुए 26 पदक जीते। हरियाणा (Haryana) के रहने वाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) ने जैवलिन थ्रो (Javelin Throw) में स्वर्ण पदक जीतकर देश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। नीरज से पहले सिर्फ अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) ही यह कारनामा कर पाए थे। इसके अलावा मीराबाई चानू, रवि दाहिया, लवलीना और पीवी सिंधु जैसे खिलाड़ियों ने भी भारत के लिए अच्छा खेल प्रदर्शन करते हुए कई और पदक भी जीते।


टोक्यो में जीते भारत ने 7 पदक

बता दें कि, टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भारत ने कुल 7 पदकों पर अपना कब्जा जमाया और भारत 1900 से ओलंपिक में हिस्सा ले रहा है और भारतीय खिलाड़ियों का इस साल यह सबसे शानदार प्रदर्शन रहा है। इससे पहले भारत ने साल 2012 में लंदन ओलंपिक में 6 पदक जीते थे।

41 साल बाद जीता पदक

इस बार के ओलंपिक खेलों में भारतीय टीम हॉकी टीम का भी अच्छा खेल देखने को मिला वहीं भारतीय टीम ने इस 41 साल बाद पदक जीता है। इससे पहले भारत ने साल 1980 में स्वर्ण पदक पर अपना कब्जा जमाया था। वहीं नीरज चोपड़ा ने भारत को 121 साल के ओलंपिक इतिहास में पहली बार एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक दिलाया है। साल 1900 में नॉर्मन प्रिचार्ड ने एथलेटिक्स में 2 रजत पदक जीते थे। हालांकि, वे भारतीय नहीं, बल्कि भारत में जन्मे अंग्रेज खिलाड़ी थे।


पैरालंपिक में लहराया तिरंगा

टोक्यो पैरालंपिक साल 2020 में भारतीय खिलाड़ियों ने 19 पदक हासिल किए और सबसे ज्यादा पदक जीतने की लिस्ट में भारत 24वें स्थान पर रहा। बता दें कि, रियो पैरालंपिक खेलों में सिर्फ 4 पदक जीतने वाले भारत ने टोक्यो खेलों में 19 पदक जीतकर साबित कर दिया कि हम किसी से कम नहीं हैं। यह भारत का पैरालंपिक में अब तक सबसे सर्वश्रेष्ठ खेल प्रदर्शन रहा है। भारतीय खिलाड़ियों ने इस दौरान 5 स्वर्ण, 8 सिल्वर और 6 ब्रांज मेडल जीते। देश ने साल 1972 में पहली बार पैरालंपिक खेलों में हिस्सा लिया था, उसके बाद से लेकर साल 2016 तक भारतीय खिलाड़ी 12 ही पदक जीते थे। बैडमिंटन खेल में सुहास यतिराज, मनोज सरकार और कृष्णा नागर ने सिल्वर मेडल जीता। पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने पहले खिलाड़ी प्रमोद भगत रहे।

Next Story