Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Happy Birthday 'saina nehwal': 16 साल की उम्र में जीती राष्ट्रीय अंडर-19 चैंपियनशिप, मां के लिए शुरू किया बैडमिंटन खेलना

आज भारतीय बैडमिंटन स्टार खिलाड़ी साइना नेहवाल अपना 31वां जन्मदिन मना रही हैं। साइना ओलंपिक में भारत के लिए मेडल जीतने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं।

मां के  लिए शुरू किया बैडमिंटन खेलना
X

17 मार्च को साइना नेहवाल का बर्थडे

खेल। साइन नेहवाल (saina nehwal) ओलंपिक (Olympic) पदक जीतने वीली और भारत की पहली बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। साइना ने अपने करियर की शुरूआत बहुत पहले ही कर दी थी। जब उन्होंने 2008 में बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप (BWF world junior championship) जीती थी। यही वो साल था जब पहली बार साइना ने ओलंपिक के लिए क्वालिफाई भी किया था, लेकिन लंदन 2012 में उनके शानदार प्रदर्शन की बदौलत दुनियाभर में उन्हें एक नई पहचान मिली।

मां का सपना पूरा किया


महज आठ साल की उम्र में ही बैडमिंटन खेलने वाली साइना का जन्म साल 1990 में आज ही के दिन हरियाणा के हिसार में हुआ था। लेकिन उनके पिता के ट्रांसफर के कारण उनका परिवार हरियाणा से हैदराबाद आ गया। वह खेल को ज्यादा महत्व देती थीं क्योंकि वहां कि स्थानीय भाषा से वो वाकिफ नहीं थीं और वो अपनी माँ के सपने को आगे बढ़ाना चाहती थी। दरअसल उनकी मां भी एक स्टेट लेवल की बैडमिंटन खिलाड़ी रह चुकीं थीं। साइना ने बैडमिंटन के खेल में कई उपलब्धियां अपने नाम की हैं। वो विश्व रैंकिंग में नंबर वन प्लेयर का खिताब पाने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी रही हैं।


साइना के नाम कई अवार्ड

साइना को पद्मश्री, पद्म विभूषण से लेकर राजीव गांधी खेल रत्न (Rajiv Gandhi Khel Ratna) के साथ ही अर्जुन अवॉर्ड (Arjun Award) से भी नवाजा जा चुका है। उन्होंने अभीतक 24 अंतरराष्ट्रीय टाइटल्स अपने नाम किए हैं। इसके साथ ही वह लंदन में खेले गए ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने वाली पहली भारतीय शटलर भी बनीं थी।

16 साल में चैंपियनशिप जीती

अपने खेल के दम पर साइना नेहवाल कई मौकों पर देश का नाम रौशन कर चुकीं हैं। देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी खेले गए मुकाबलों में उन्होंने गोल्ड और सिल्वर मेडल जीते। बता दें कि साइना ने कॉमनवेल्थ यूथ टाइटल (Commonwealth Youth title), कॉमनवेल्थ वूमेन सिंगल गोल्ड (Commonwealth Women's singles gold), सुपर सीरीज टाइटल (Super Series title), वर्ल्ड जूनियर का टाइटल अपने नाम किया है। वहीं उन्होंने महज 16 साल की उम्र में साल 2006 में राष्ट्रीय अंडर-19 चैंपियनशिप (National under-19 Championship) भी जीती थी।

जिंदगी पर बन रही बायोपिक

वहीं बैडमिंटन क्वीन साइना की जिंदगी के सफरनामें पर बायोपिक (Biopic) बन चुकी है। जिसमें अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा (Parineeti Chopra) को साइना के किरदार के तौर पर दिखाया जाएगा। उनकी बायोपिक का टाइटल 'साइना' रखा गया है। जिसका ट्रेलर हाल ही में महिला दिवस (Women's day) के मौके पर लॉन्च हो चुका है। वहीं 26 मार्च को देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी।

Next Story