Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोरोना वायरस के बाद भारतीय हॉकी टीम की वापसी, जर्मनी को 6-1 से हराया

कोरोना महामारी के कारण लंबे समय बाद भारतीय हॉकी टीम ने मैदान पर धमाकेदार वापसी की है। जर्मनी को उसी के घर में 6-1 से शिकस्त देते हुए चार मैच के यूरोप टूर की जबरदस्त शुरुआत की

भारतीय टीम ने चार मैच के यूरोप टूर में की जबरदस्त शुरुआत
X

भारत ने जर्मनी को 6-1 से हराया

खेल। कोरोना महामारी के कारण लंबे समय बाद भारतीय हॉकी टीम (Indian Hockey team) ने मैदान पर धमाकेदार वापसी की है। जर्मनी (Germany) को उसी के घर में 6-1 से शिकस्त देते हुए चार मैच के यूरोप टूर (Europe Tour) की जबरदस्त शुरुआत की। दरअसल क्रेफेल्ड (Krefeld) में रविवार को खेले गए इस मैच के पहले क्वार्टर तक दोनों टीम 1-1 से बराबर थी, लेकिन अगले तीन क्वार्टर में भारतीय खिलाड़ियों (Indian Players) ने पांच गोल दाग दिए। वहीं इस दौरान भारतीय युवा खिलाड़ी विवेक सागर प्रसाद (Vivek Sagar Prasad) ने एक मिनट में दो गोल करके शानदार प्रदर्शन किया। इसके साथ ही नीलकांत शर्मा (Neilkant Sharma) 13वें मिनट, ललित कुमार उपाध्याय (Lalit Kumar Upadhya) 41वें मिनट और आकाशदीप सिंह (Akshdeep singh) 42वें मिनट के साथ ही हरमनप्रीत सिंह (Harmanpreet singh) 47वें मिनट में गोल दागे।

भारतीय टीम ने 12 महीने बाद मैदान पर वापसी करके शानदार खेल दिखाया और साथ ही मेजबान टीम जर्मनी (Germany) पर दबाव बनाया। भारत को आक्रामक खेल का फायदा पहले क्वार्टर के 13वें मिनट में नीलकांत शर्मा ने पेनल्टी कार्नर को गोल में बदल कर टीम का खाता खोला। हालांकि इसके अगले ही मिनट में जर्मनी के कांटेस्टाइन टैब (constantine tab) ने बराबरी का गोल दाग दिया।

विवेक ने दागे एक मिनट के अंदर दो गोल

दूसरे क्वार्टर की शुरूआत में जर्मनी ने भारत पर दबाव बनाते हुए लगातार दो पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए। जिसके बाद भारत उस दबाव से उभरा और उसने बचाव करते हुए विवेक ने 27वें और 28वें मिनट में दो गोल दाग दिए। इसके साथ ही जर्मनी बार बार भारत पर दबाव बना रहा था जिसमें उसने 6 पेनल्टी कॉर्नर हासिल किए। हालांकि कप्तान और गोलकीपर पीआर श्रीजेश (Sreejesh Parattu Raveendran) ने जर्मनी को गोल करने से बखूबी रोका।

वहीं मैच के बाद कप्तान श्रीजेश ने खिलाड़ियों की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि," लंबे अंतराल के बाद एक जबरदस्त विजय मिली है। यह वही जर्मनी की टीम है जो अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) के प्रो लीग खेलेगी, और मुझे लगता है कि हम विरोधियों के खिलाफ बेहतरीन खेले। एक यूनिट के रूप में सभी सालभर बाद टर्फ पर उतर रहे थे। हमने काफी तैयारियां की थी, जिसे मैदान पर जाकर उतार दिया।


Next Story