Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कार्लसन को मिली 10 करोड़ की इनामी राशि

नए विश्व चैम्पियन मैग्नस कार्लसन को विश्व शतरंज चैम्पियनशिप मुकाबले में भारत के गत चैम्पियन विश्वनाथन आनंद को हराने के लिए नौ करोड़ 90 लाख रुपए की इनामी राशि दी गई।

कार्लसन को मिली 10 करोड़ की इनामी राशि
X

चेन्नई. नए विश्व चैम्पियन मैग्नस कार्लसन को विश्व शतरंज चैम्पियनशिप मुकाबले में भारत के गत चैम्पियन विश्वनाथन आनंद को हराने के लिए नौ करोड़ 90 लाख रुपए की इनामी राशि दी गई। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता ने लगभग 10 मिनट चले कार्यक्रम में नार्वे के कार्लसन और भारत के आनंद को इनामी राशि और ट्राफी दी। यह प्रतिष्ठित खिताब जीतने वाले गैरी कास्परोव के बाद सबसे युवा खिलाड़ी कार्लसन को सोने के पानी चढ़ी ट्राफी दी गई जिसका डिजाइन जयललिता ने चुना है।

इसके अलावा उन्हें स्वर्ण पदक और फूलों की माला दी गई। पांच बार के विश्व चैम्पियन आनंद को छह करोड़ तीन लाख रूपये, चांदी की ट्राफी और रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

शतरंज भारत में प्रत्येक स्कूल में खेला जाए: आनंद

पांच बार के विश्व चैम्पियन आनंद ने कहा, 'मेरा सपना है कि शतरंज भारत में प्रत्येक स्कूल में खेला जाए।' आनंद ने 'रिइमैजिनिंग इंडिया: अनलॉकिंग द पोटेशंल आफ एशियाज नेक्स्ट सुपरपावर' नाम की किताब के लिए एक निबंध लिखा है जिसे वैश्विक कंस्लटेंट फर्म मैकिन्से ने संपादित किया है।

शतरंज में रूस के दबदबे की जानकारी देते हुए आनंद ने कहा कि रूस के लोग इस बात के लिए मशहूर हैं कि वे दुल्हन के शादी के साजो सामान में ‘चेसबोर्ड’ देते हैं ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि बच्चे खेल के नियम जान जाएं।

उन्होंने कहा, 'सोवियत के लोगों के लिए शतरंज उनके डीएनए में था। समय और प्रयास से हम भारतीय भी बच्चे को बचपन से शतरंज के नियमों से रूबरू करवा सकते हैं ताकि वे खेल की बारिकियों को समझ सके। '

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story