Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

India vs Ireland: आयरलैंड के खिलाफ पहले टी-20 के लिए ये हो सकती है भारत की संभावित प्लेइंग XI

भारतीय टीम आयरलैंड के खिलाफ दो टी-20 मैच खेलकर अगले महीने होने वाले इंग्लैंड दौरे के लिए अपनी तैयारी शुरू करेगी। आयरलैंड के खिलाफ 27 जून को शुरू होने वाले पहले टी-20 में ये हो सकती है टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग इलेवन।

India vs Ireland: आयरलैंड के खिलाफ पहले टी-20 के लिए ये हो सकती है भारत की संभावित प्लेइंग  XI
X

भारतीय टीम आयरलैंड के खिलाफ दो टी-20 मैच खेलकर अगले महीने होने वाले इंग्लैंड दौरे के लिए अपनी तैयारी शुरू करेगी। उन्होंने पिछले कई सालों से इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए संघर्ष किया है और आयरलैंड के खिलाफ ये कुछ मैच तैयारी करने का बेहतर मौका है।

आयरिश टीम में पॉल स्टर्लिंग और केविन ओ'ब्रायन जैसे टी-20 विशेषज्ञ को छोड़कर कोई बड़ा नाम नहीं है। आयरलैंड के खिलाफ 27 जून को शुरू होने वाले पहले टी-20 में ये हो सकती है टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग इलेवन।

ओपनर

रोहित शर्मा और शिखर धवन

रोहित शर्मा के लिए मौजूदा आईपीएल सीजन एक बुरा अनुभव था और उन्हें इंग्लैंड दौरे से पहले अपना फॉर्म ढूंढना होगा। आयरलैंड की गेंदबाजी में कोई खास जान नहीं है और ऐसे में रोहित के पास इस मैच से फॉर्म में वापसी करने का अच्छा मौका होगा।
टीम में केएल राहुल की मौजूदगी के बावजूद शिखर धवन ओपनिंग में रोहित के साथ उतरेंगे। धवन आईपीएल 2018 में सनराइजर्स के शीर्ष स्कोरर में से एक थे और वह इसी फॉर्म को जारी रखना चाहेंगे।

मध्य क्रम

विराट कोहली, सुरेश रैना, दिनेश कार्तिक

आईपीएल के मैच के दौरान गर्दन की चोट के बाद कप्तान विराट कोहली पूरी तरह फिट हो चुके हैं। शुरुआत में कोहली को इंग्लैंड दौरे के लिए खुद को तैयार करने के लिए काउंटी चैम्पियनशिप में हिस्सा लेना था, लेकिन चोट के कारण वह ऐसा नहीं कर सके। उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में भी नहीं खेला था।
यह सुरेश रैना के लिए भारतीय टीम में अपनी जगह बनाने का अंतिम मौका हो सकता है। रैना आम तौर पर शोर्ट गेंद के खिलाफ संघर्ष करते नजर आते हैं और आयरिश टीम शोर्ट गेंद से रैना को परेशान कर सकते हैं।
वर्तमान में दुनिया के सबसे अंडररेड खिलाड़ियों में से एक कार्तिक है। उन्होंने एक अच्छे फिनिशर के रूप में खुद को विकसित किया है और साथ ही निदाहस ट्रॉफी फाइनल में उन्होंने खुद को प्रमाणित किया था।

ऑलराउंडर और विकेटकीपर

हार्दिक पांड्या और एमएस धोनी

धोनी आईपीएल 2018 में एक बार फिर अपने पुराने अंदाज में नजर आए थे और इस दौरान उन्होंने कई अच्छी पारियां भी खेली थी। पिछले कुछ सालों में उन्होंने वनडे मैचों में संघर्ष किया है और अपेक्षाकृत कमजोर विपक्ष के खिलाफ वह फॉर्म में आना चाहेंगे।
हार्दिक पांड्या ने देर से हीं सही लेकिन गेंदबाज के रूप में अपने आप में सुधार किया है, लेकिन उनकी बल्लेबाजी चिंता का कारण बनी हुई है। हालांकि वह अगले साल विश्व कप के लिए भारत की ओर से सर्वश्रेष्ठ विकल्प बन सकते हैं।

स्पिनर्स

कुलदीप यादव, युजेंद्र चहल

कुलदीप यादव और युजेंद्र चहल की स्पिन जोड़ी ने पिछले साल से भारत के सीमित ओवरों में मुख्य गेंदबाज रहे हैं। कलाई स्पिनरों में उन मैदानों में भी विकेट निकालने की क्षमता होती है जो स्पिन की सहायता नहीं करते हैं और यह आयरलैंड और इंग्लैंड में एक अतिरिक्त बोनस है जो यहां की पिच स्पिनर-अनुकूल होने की उम्मीद नहीं है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story