Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IPL नीलामी 2018: इन क्रिकेटरों पर हो सकती है पैसों की बरसात, जानिए किस टीम के पास है कितना पैसा

शनिवार को बेंगलुरू में शुरू हो रही आईपीएल की दो दिवसीय खिलाड़ियों की नीलामी में इस साल 578 खिलाड़ी हिस्सा लेंगे जिसमें 361 भारतीय हैं।

IPL नीलामी 2018: इन क्रिकेटरों पर हो सकती है पैसों की बरसात, जानिए किस टीम के पास है कितना पैसा

विश्व क्रिकेट के कुछ सबसे बड़े नाम कल जब बेंगलुरू में शुरू हो रही आईपीएल की दो दिवसीय खिलाड़ी नीलामी में उतरेंगे तो बेन स्टोक्स और रविचंद्रन अश्विन पर भारी भरकम बोली लगने की संभावना है। इस साल 578 खिलाड़ी नीलामी में हिस्सा लेंगे जिसमें 361 भारतीय हैं। भारत और विश्व के 16 शीर्ष क्रिकेटरों को मार्की दर्जा दिया गया है और उनका आधार मूल्य दो करोड़ रुपये है। इसमें स्टोक्स, अश्विन, शिखर धवन, मिशेल स्टार्क, क्रिस गेल और ड्वेन ब्रावो शामिल हैं।

पिछले सत्र में रिकॉर्ड 14 करोड़ 50 लाख रुपये में बिके इंग्लैंड के शीर्ष आलराउंडर स्टोक्स के लिए एक बार फिर फ्रेंचाइजियों को बड़ी राशि खर्च करनी पड़ सकती है। वर्ष 2008 में आईपीएल की शुरुआत के बाद से इस स्तर की नीलामी नहीं हुई है जहां इतने सारे स्टार भारतीय खिलाड़ियों की बोली लगे। खेल के छोटे प्रारूप में अश्विन और अजिंक्य रहाणे भले ही पिछले कुछ समय से भारतीय टीम का हिस्सा नहीं हों लेकिन इसके बावजूद फ्रेंचाइजियों के बीच इन्हें खेल काफी रुचि होने की उम्मीद है।

इसे भी पढ़े: दीपिका पादुकोण ने किया खुलासा, अपने इस क्रिकेटर एक्स बॉयफ्रेंड को अब भी करती है पसंद

इन खिलाड़ियों पर रहेंगी नजरें

बल्लेबाजी, ऑफ स्पिन गेंदबाजी और विकेटकीपिंग की क्षमता के कारण केदार जाधव को रायल चैलेंजर्स बेंगलूर की टीम एक बार फिर खरीदना चाहेगी। कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल जैसे कलाई के स्पिनरों की भी भारी मांग रहने की उम्मीद है। टी-20 प्रारूप में सफल रहे लोकेश राहुल, मनीष पांडे और दिनेश कार्तिक जैसे खिलाड़ियों पर भी नजरें रहेंगी। टी-20 में अच्छे कलाई के स्पिनरों की मांग को देखते हुए अफगानिस्तान के राशिद खान को एक बार फिर अच्छी धनराशि मिल सकती है।

महेंद्र सिंह धोनी ने हाल में कहा था कि चेन्नई सुपरकिंग्स स्थानीय खिलाड़ी अश्विन को खरीदने की कोशिश करेगा लेकिन देखना यह होगा कि उनके लिए राइट टू मैच कार्ड उपलब्ध नहीं होने के बावजूद टीम इस आफ स्पिनर के लिए कितनी राशि दांव पर लगाने के लिए तैयार होगी। सीएसके की टीम ऑस्ट्रेलिया के बायें हाथ के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क को खरीदने की कोशिश कर सकती है क्योंकि धोनी इससे पहले डग बोलिंगर और आशीष नेहरा जैसे गेंदबाजों को टीम में जगह देते रहे हैं।

अश्विन और गौतम गंभीर

अगर आरसीबी की टीम स्टार्क के लिए राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल करती है जो सीएसके जयदेव उनादकट को खरीद सकती है जिन्होंने पिछले सत्र में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। सीएसके की टीम हालांकि ड्वेन ब्रावो के लिए राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल कर सकती है जो टीम में धोनी के भरोसेमंद रहे हैं। दूसरी तरफ दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम अश्विन और गौतम गंभीर को अपने साथ जोड़ना चाहेगी। गंभीर को अगर टीम खरीदती है तो उन्हें कप्तान बनाया जा सकता है। केकेआर की टीम के पास गंभीर को रिटेन करने का विकल्प हो सकता है लेकिन टीम ऐसा चाहती तो उन्हें शुरू में ही नीलामी के लिए रिलीज नहीं करती।

शाहरूख खान के सह स्वामित्व वाली टीम क्रिस लिन के लिए राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल कर सकती है जिन्होंने टीम के लिए प्रभावी प्रदर्शन किया है। राजस्थान रायल्स ने सिर्फ स्टीव स्मिथ को रिटेन किया है और उनके पास नीलामी के लिए सबसे अधिक राशि बची है। टीम वेस्टइंडीज के एविन लुईस जैसे आक्रामक बल्लेबाज को खरीदने की कोशिश कर सकती है जिन्होंने भारत के खिलाफ दो टी20 अंतरराष्ट्रीय शतक जड़े हैं इसी तरह टी20 में हाल में अच्छे प्रदर्शन के बाद कोलिन मुनरो पर भी भारी भरकम बोली लग सकती है।

इसे भी पढ़े: IND vs SA: भारत को लगा 5वा झटका, एक क्लिक में जाने अपडेटेड स्कोर

कीरोन पोलार्ड और अंडर 19 खिलाड़ियों

हाल में 400वां टी20 मैच खेलने वाले कीरोन पोलार्ड के मुंबई इंडियन्स से ही जुड़े रहने की उम्मीद है क्योंकि इस आक्रामक बल्लेबाज के लिए टीम के राइट टू मैच कार्ड का इस्तेमाल करना लगभग तय मारा जा रहा है। किंग्स इलेवन पंजाब की टीम हरभजन सिंह को अपने साथ जोड़ सकती है क्योंकि इस प्रारूप में अब भी उनका प्रदर्शन प्रभावी है और उन्हें टीम की कप्तानी सौंपने का विकल्प भी मौजूद रहेगा। प्रत्येक फ्रेंचाइजी को न्यूनतम 18 सदस्यीय टीम में कम से कम 10 भारतीय खिलाड़ियों की जरूरत होगी और ऐसे में कृणाल पंड्या, बासिल थंपी, आवेश खान, दीपक हुड्डा को अच्छी खासी राशि मिलने की उम्मीद है।

भारत के अंडर 19 खिलाड़ियों विशेषकर कमलेश नागरकोटी को लेकर काफी रोमांच है जो न्यूजीलैंड में चल रहे अंडर 19 विश्व कप में नियमित तौर पर 140 किमी प्रतिघंटा से अधिक की रफ्तार से गेंदबाजी कर रहे हैं। नागरकोटी के साथी तेज गेंदबाज शिवम मावी और कप्तान पृथ्वी शा पर भी अच्छी बोली लगने की उम्मीद है। पंजाब के अंडर 19 क्रिकेटर शुभम गिल और अभिषेक शर्मा पर भी फ्रेंचाइजियों की नजरें होंगी। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेलने वाले विदेशी खिलाड़ियों में वेस्टइंडीज में जन्में जोफ्रा आर्चर पर नजरें होंगी जिन्होंने बिग बैश लीग में शानदार प्रदर्शन किया।

किस टीम के पास कितना पर्स बाकी

किंग्स 11 पंजाब के पास 67.5 करोड़ रुपए

राजस्थान रॉयल्स के पास 67.5 करोड़ रुपए

नाइटराइडर्स के पास 59 करोड़ रुपए

सनराइज़र्स के पास भी 59 करोड़ रुपए

बैंगलोर के पास 49 करोड़ रुपए

चेन्नई, मुंबई, और दिल्ली के पास 47 करोड़ का बजट बचा

Share it
Top