Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IPL 2018: प्लेऑफ की जंग हो चुकी है तेज, बस एक क्लिक में जानिए इस सीजन कौन सी टीम है सबसे मजबूत

इतने करीबी मुकाबले हमें आईपीएल के किसी सीजन में देखने को नहीं मिले। अंक तालिका इसे बयां भी करती है। एक टीम को छोड़कर लगभग हर टीम प्लेऑफ की होड़ में लगी है। इस आईपीएल में अधिकतर टीमों की कुछ मजबूती है तो कुछ कमजोरियां भी हैं, जो किसी न किसी दिन सामने आ जाती है। इससे विपक्षी टीमों को वापसी का मौका मिल रहा है।

IPL 2018: प्लेऑफ की जंग हो चुकी है तेज, बस एक क्लिक में जानिए इस सीजन कौन सी टीम है सबसे मजबूत
X

संजय मांजरेकर। इतने करीबी मुकाबले हमें आईपीएल के किसी सीजन में देखने को नहीं मिले। अंक तालिका इसे बयां भी करती है। एक टीम को छोड़कर लगभग हर टीम प्लेऑफ की होड़ में लगी है। हो सकता है कि सभी के लिए न हो, लेकिन अधिकतर के पीछे कोई न कोई वजह है।

मेरी भी अपनी एक सोच है कि इतने करीबी मुकाबले क्यों हो रहे हैं और बावजूद इसके उम्मीद खो चुकी टीमें वापसी कर रही हैं, जबकि इसका उल्टा भी देखने को मिल रहा है। मेरा मानना है कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि इस आईपीएल में अधिकतर टीमों की कुछ मजबूती है तो कुछ कमजोरियां भी हैं, जो किसी न किसी दिन सामने आ जाती है। इससे विपक्षी टीमों को वापसी का मौका मिल रहा है।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: CSK ने हैदराबाद को 8 विकेट से हराया, अंबाती रायडु का 62 गेंदों पर नाबाद शतक

आरसीबी

जरा आरसीबी को देखिए। टीम के पास एबी डिविलियर्स और विराट कोहली के रूप में दो बेहतरीन बल्लेबाज और चहल व साउदी के रूप में दो असाधारण गेंदबाज हैं। इन चारों को छोड़ दें तो बाकी खिलाड़ी अपेक्षाकृत योगदान नहीं दे रहे हैं जो टीम की सबसे बड़ी कमजोरी है।

राजस्‍थान रॉयल्स

राजस्‍थान रॉयल्स की टीम में कई खिलाड़ी बेहतरीन हैं, लेकिन टीम का आत्मविश्वास कमजोर है और इस प्रारूप में आत्मविश्वास बेहद जरूरी है। रहाणे, स्टोक्स और उनादकट अपेक्षानुरूप नहीं खेल सके हैं और अगर बटलर भी इस सूची में शामिल हो जाते तो अब तक टीम का पुलिंदा बंध चुका होता।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: कांग्रेस सांसद सिंधिया ने प्रीति जिंटा को दिया ये नसीहत, पंजाब की मालकिन ने दिया करार जवाब

किंग्स इलेवन पंजाब

किंग्स इलेवन पंजाब का गेंदबाजी आक्रमण अश्विन और मुजीब के शानदार हाथों में हैं और टीम के पास गेल व राहुल के रूप में जबरदस्त ओपनिंग जोड़ी है। मगर अपने कैरियर के इस पड़ाव पर गेल आपको लगातार रन बनाकर नहीं दे सकते। इन दोनों के बाद मध्यक्रम उतना मजबूत नजर नहीं आता। टीम की तेज गेंदबाजी भी बेहतर तरीके से संभालने की जरूरत है।

दिल्ली डेयरडेविल्स

दिल्ली डेयरडेविल्स की बल्लेबाजी काफी युवा हाथों में है। इसमें अनुभव की कमी झलकती है। टीम के पास कोई गेम बदलने वाली स्पिन जोड़ी भी नहीं है।

कोलकाता नाइटराइडर्स

वहीं कोलकाता नाइटराइडर्स को प्रभाव छोड़ने के लिए स्पिन के मुफीद माहौल चाहिए। अगर उसे ऐसी स्थिति नहीं मिलती तो यह टीम साधारण नजर आती है।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: IPL की नई 'सनसनी' अभिषेक शर्मा ने 19 गेंदों में ठोक डाले 46 रन, कोहली से हो रही है तुलना, जानिए ये FACTS

सनराइजर्स हैदराबाद

सभी टीमों में सनराइजर्स हैदराबाद सबसे मजबूत है। उनके गेंदबाज अगुआई कर रहे हैं। टीम के बल्लेबाज भी अब मोर्चा संभाल रहे हैं।

चेन्नई सुपरकिंग्स

चेन्नई सुपरकिंग्स के पास अपार अनुभव है, लेकिन फिटनेस की कमी इस प्रारूप में मुश्किलें खड़ी कर सकती हैं।

मुंबई इंडियंस

मुंबई इंडियंस की कहानी थोड़ी अजीब है। सुनील नारायण की तरह गेम चेंजर स्पिनर की कमी छोड़ दें तो टीम बेहद संतुलित है। यह ऐसी टीम है जिसकी सबसे कम कमजोरियां हैं। तो क्या वजह है कि उनका सफर भी इतना आसान नहीं रहा। आखिर यही तो टी-20 का रोमांच है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story