Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IPL 2018: आईपीएल एलिमिनेटर में राजस्थान के सामने होगी KKR की कठिन चुनौती

पूर्व चैम्पियन राजस्थान रॉयल्स आईपीएल के एलिमिनेटर में जब दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स से बुधवार को उसके घरेलू मैदान ईडन गार्डंस पर खेलेगी तो किसी तरह की कोताही बरतने की कोई गुंजाइश नहीं रहेगी।

IPL 2018: आईपीएल एलिमिनेटर में राजस्थान के सामने होगी KKR की कठिन चुनौती

पूर्व चैम्पियन राजस्थान रॉयल्स आईपीएल के एलिमिनेटर में जब दो बार की विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स से बुधवार को उसके घरेलू मैदान ईडन गार्डंस पर खेलेगी तो किसी तरह की कोताही बरतने की कोई गुंजाइश नहीं रहेगी। नाइट राइडर्स ने इस सत्र में अब तक दोनों मैचों में रॉयल्स को हराया है।

पिछले महीने जयपुर में सात विकेट से हराने के बाद एक सप्ताह पहले ईडन गार्डंस पर छह विकेट से मात देकर प्लेऑफ में जगह बनाई। लगातार तीन जीत दर्ज करके केकेआर के हौसले बुलंद है जिसने छठी बार अंतिम चार में जगह बनाई है।

दिनेश कार्तिक की अगुवाई वाली टीम ने बेहतरीन गेंदबाजी आक्रमण वाली सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में टूर्नामेंट का सर्वोच्च स्कोर बनाया। उसके लिये सोने पे सुहागा यह है कि चारों क्वालीफायर में वह अकेली टीम है जिसे अपने घरेलू मैदान पर खेलने का फायदा मिल रहा है।

बुधवार का मैच जीतने वाली टीम सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपर किंग्स से दूसरे क्वालीफायर में खेलेगी जो कोलकाता में ही होगा। इससे फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी टीम तय होगी।

राजस्थान रॉयल्स

पहले सत्र की चैम्पियन राजस्थान की उम्मीदें अपने स्टार खिलाड़ियों पर टिकी थी लेकिन जोस बटलर और बेन स्टोक्स की गैर मौजूदगी में भी उसने आखिरी लीग मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूरू को हराकर प्लेऑफ की उम्मीदें कायम रखी थी। स्टोक्स और बटलर इंग्लैंड के लिये खेलने स्वदेश रवाना हो गए हैं।

इस जीत के बावजूद उसे बाकी दो नतीजे अपने पक्ष में आने की दुआ करनी थी और उनकी दुआ रंग लाई जब मुंबई इंडियंस और किंग्स इलेवन पंजाब अपने अपने मुकाबले हारकर दौड़ से बाहर हो गए। एलिमिनेटर में अब अजिंक्य रहाणे की टीम को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। उसके लिये सबसे बड़ी चुनौती सुनील नारायण, पीयूष चावला और कुलदीप यादव की स्पिन तिकड़ी को हराना होगा ।

यादव ने पिछले मैच में 20 रन देकर चार विकेट लिये थे। कप्तान रहाणे को अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा जिन्होंने 324 रन बनाये हैं। वहीं संजू सैमसन और राहुल त्रिपाठी से भी अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी। दक्षिण अफ्रीका के हेनरिच क्लासेन फिनिशर की भूमिका में होंगे।

कोलकाता नाइट राइडर्स

दूसरी ओर केकेआर के लिये कार्तिक ने मोर्चे से अगुवाई की है और छह नाबाद पारियां खेलकर टीम को जीत तक ले गए हैं। उन्होंने अब तक 54.78 की औसत से 438 रन बनाये हैं। त्रिनिदाद के स्पिनर सुनील नारायण ने एक बार फिर अपनी उपयोगिता साबित की है।

उन्होंने टीम को आक्रामक शुरूआत देते हुए 189.01 के स्ट्राइक रेट से रन बनाये हैं। स्पिनरों ने तो केकेआर के लिये अपने काम को बखूबी अंजाम दिया है लेकिन तेज गेंदबाज चूक गए हैं। कर्नाटक के युवा तेज गेंदबाज प्रसिद्ध कृष्णा ने हालांकि हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में 30 रन देकर चार विकेट लिये और वह इस लय को कायम रखना चाहेंगे।

Share it
Top