Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IPL 2018 : KKR को जीत दिलाने वाले शुभमन गिल के क्र‍िकेटर बनने की कहानी है बड़ी दिलचस्प

गुरुवार को आईपीएल सीजन 11 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 6 विकेट से हराकर पॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर अपनी जगह बना ली। इस जीत में अंडर 19 वर्ल्ड कप स्टार शुभमन गिल का अहम योगदान रहा उन्होंने 36 गेंदों में छह चौकों और दो छक्के के साथ नाबाद 57 रन बनाकर सबका दिल जीत लिया।

IPL 2018 :  KKR को जीत दिलाने वाले शुभमन गिल के क्र‍िकेटर बनने की कहानी है बड़ी दिलचस्प

गुरुवार को आईपीएल सीजन 11 में कोलकाता नाइट राइडर्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 6 विकेट से हराकर पॉइंट्स टेबल में तीसरे नंबर पर अपनी जगह बना ली। इस जीत में अंडर 19 वर्ल्ड कप स्टार शुभमन गिल का अहम योगदान रहा उन्होंने 36 गेंदों में छह चौकों और दो छक्के के साथ नाबाद 57 रन बनाकर सबका दिल जीत लिया।

शुभमन का क्रिकेटर बनने तक का सफर बहुत ही दिलचस्प है इनकी कहनी काफी तक दंगल फिल्म से मिलती है। दरअसल शुभमन के परिवार के ज्यादातर लोग का ध्यान पहलवानी की ओर ही था।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: MI को प्लेऑफ के लिए जीतना होगा मैच, गेल स्टोर्म से होगा सामना, ये हो सकती हैं प्लेइंग इलेवन टीम

क्योकि गिल के दादा पहलवानी कर चुके हैं, हालांकि जांघ में चोट लगने की वजह से उनके पिता लखविंदर सिंह का पहलवान बनने का सपना पूरा नहीं हो सका। लेकिन उनके पिता लखविंदर सिंह ने शुभमन की दिलचस्पी बचपन से ही दूसरे खेलों की जगह क्रिकेट में ज्यादा कर दी।

गिल ने 4 साल की उम्र से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। गिल के पिता उन्हें एक बड़ा क्रिकेटर बनाने की चाह में अपने परिवार के साथ गिल को लेकर गांव से निकलकर मोहाली आ गए और वहां एक किराये के घर में रहने लगे।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: ‘करो या मरो' के मैच में मुंबई के सामने पंजाब की कड़ी चुनौती, हारे तो प्लेऑफ से बाहर

फिर उनके पिता ने मोहाली स्टेडियम के पास एक अकेडमी में गिल का एडमिशन करवाया और यहां तक समय मिलने पर वो खुद भी गिल ट्रेनिंग देते थे। पहली बार शुभमन पंजाब की ओर से विजय मर्चेंट ट्रॉफी अंडर-16 की टीम में खेलते हुए एक तेज दोहरा शतक लगाने के बाद चर्चा में आए थे।

हालांकि इस बीच उनका फॉर्म भी खराब रहा लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और अंडर-19 टीम में चुने जाने के बाद अपनी शानदार बल्लेबाजी से आईपीएल तक का सफर पूरा किया।

Share it
Top