Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IPL 2018: राशिद खान के लिए आसान नहीं था यहां तक का सफर, अपना देश छोड़कर भागना पड़ा था पाकिस्तान

शुक्रवार को आईपीएल सीजन 11 के दूसरे क्वालीफायर मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाड़ी राशिद खान ने कोलकातान नाइट राइडर्स के खिलाफ ऑलराउंडर प्रदर्शन से चर्चा में हैं। लेकिन राशिद का यहां तक का सफर इतना आसान नहीं था उनका बचपन काफी मुश्किलों के बीच गुजरा।

IPL 2018: राशिद खान के लिए आसान नहीं था यहां तक का सफर, अपना देश छोड़कर भागना पड़ा था पाकिस्तान

शुक्रवार को आईपीएल सीजन 11 के दूसरे क्वालीफायर मैच में सनराइजर्स हैदराबाद ने कोलकातान नाइट राइडर्स को 14 रन से हराकर आईपीएल के फाइनल में अपना स्थान पक्का किया। सनराइजर्स के इस जीत में उन्नीस साल के अफगानी लेग स्पिनर राशिद खान का अहम रोल रहा। उन्होंने हर विभाग में अच्छा प्रदर्शन किया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 गेंदों में 34 रन बनाकर टीम को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। फिर इसके बाद उन्होंने 4 ओवर में 19 रन देकर तीन महत्वपूर्ण विकेट लिए। राशिद यहीं नहीं रुके बल्कि उन्होंने फील्डिंग में आखिरी ओवर में दो शानदार कैच पकड़ने के बाद एक रन आउट भी किया।

इस प्रदर्शन के बाद महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर से लेकर अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी तक ने उनकी जमकर तारीफ की। लेकिन राशिद का यहां तक का सफर इतना आसान नहीं था उनका बचपन काफी मुश्किलों के बीच गुजरा। आइये एक नजर डालते हैं राशिद के अब तक के सफर पर।

राशिद खान को अपना देश छोड़कर भागना पड़ा था पाकिस्तान

राशिद खान 20 सितंबर 1998 को अफगानिस्तान के नांगरहार में पैदा हुए थे। वे दस भाई-बहन हैं। राशिद जब छोटे थे उसी समय तालिबान की वजह से अफगानिस्तान में गृहयुद्ध चल रहा था। जिसकी वजह से उनका परिवार अपना देश छोड़कर पाकिस्तान चला गया था।

फिर जब गृहयुद्ध खत्म हुआ तब राशिद का परिवार एक बार फिर अपने देश अफगानिस्तान आ गया। राशिद का साधारण सा परिवार है जिसकी रोजी रोटी एक छोटे से बिजनेस से चलती है।

आईपीएल 2017 की नीलामी में राशिद की किस्मत चमकी और सनराइजर्स हैदराबाद ने उसे 4 करोड़ रुपए में खरीदा। फिर आईपीएल 2018 की नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद 9 करोड़ रुपए में रिटेन कर अपनी टीम में शामिल किया।

Share it
Top