Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IPL 2018: वाटसन और धोनी के धमाकेदार अर्धशतक, सुपरकिंग्स ने दिल्ली को 13 रन से हराया

वाटसन और धोनी के अर्धशतकों से सुपरकिंग्स ने चार विकेट पर 211 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया जिसके बाद दिल्ली की टीम पांच विकेट पर 198 रन ही बना सकी।

IPL 2018: वाटसन और धोनी के धमाकेदार अर्धशतक, सुपरकिंग्स ने दिल्ली को 13 रन से हराया
X

शेन वाटसन और कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के धमाकेदार अर्धशतकों से चेन्नई सुपरकिंग्स आईपील में आज यहां दिल्ली डेयरडेविल्स को 13 रन से हराकर अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गया।

वाटसन (78) और धोनी (नाबाद 51) के अर्धशतकों से सुपरकिंग्स ने चार विकेट पर 211 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में दिल्ली की टीम ऋषभ पंत (79) और विजय शंकर (नाबाद 54) के अर्धशतक और दोनों के बीच पांचवें विकेट की 88 रन की साझेदारी के बावजूद पांच विकेट पर 198 रन ही बना सकी।

पंत ने 45 गेंद का सामना करते हुए सात चौके और चार छक्के मारे जबकि विजय शंकर ने 31 गेंद की पारी में पांच छक्के और एक चौका जड़ा लेकिन टीम को खराब शुरुआत से नहीं उबार पाए।

वाटसन ने फाफ डुप्लेसिस (33) के साथ पहले विकेट के लिए 102 रन जोड़कर टीम को शानदार शुरुआत दिलाई जबकि धोनी ने अंबाती रायुडू (41) के साथ डेथ ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया।

दोनों ने चौथे विकेट के लिए 79 रन की साझेदारी की। वाटसन ने 40 गेंद की अपनी पारी में सात छक्के और चार चौके मारे जबकि धोनी ने 22 गेंद का सामना करते हुए पांच छक्के और दो चौके जड़े। सुपरकिंग्स की टीम आठ मैचों में छह जीत से 12 अंक के साथ अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गई है।

दिल्ली की टीम आठ मैचों में यह छठी हार है और वह चार अंक के साथ अंतिम पायदान पर चल रही है। लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की टीम ने दूसरे ओवर में ही पृथ्वी शा (09) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने पदार्पण कर रहे तेज गेंदबाज केएम आसिफ (43 रन पर दो विकेट) की गेंद पर मिड आफ में रविंद्र जडेजा को आसान कैच थमाया।

सलामी बल्लेबाज कोलिन मुनरो (26) ने शेन वाटसन का स्वागत छक्के और चौके से करने के बाद आसिफ की लगातार गेंदों पर दो चौके और एक छक्का जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की अगली गेंद पर कर्ण शर्मा को कैच दे बैठे।

कप्तान श्रेयष अय्यर (13) इसके बाद बेवकूफाना रन लेने की कोशिश में रन आउट हुए जबकि रविंद्र जडेजा (31 रन पर एक विकेट) ने ग्लेन मैक्सवेल (06) को बोल्ड करके दिल्ली का स्कोर चार विकेट पर 74 रन किया। दिल्ली की टीम ने 10 ओवर में चार विकेट पर 78 रन बनाए।

पंत ने आते ही वाटसन की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा। उन्होंने जडेजा पर भी चौका और छक्का जड़ा और विजय शंकर के साथ मिलकर 13वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। दिल्ली को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 84 रन की दरकार थी।

पंत ने आसिफ पर दो चौकों और एक छक्के के साथ 34 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। पंत ने लुंगी एनगिडी पर भी चौका जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद को हवा में लहराकर जडेजा को आसान कैच दे बैठे। दिल्ली को अंतिम दो ओवर में जीत के लिए 49 रन की दरकार थी।

इसे भी पढ़ें- IPL 2018: क्रिस गेल का RCB को लेकर बड़ा खुलासा, बोले- वादा किया था फिर भी रिटेन नहीं किया

विजय शंकर ने 19वें ओवर में ब्रावो पर तीन छक्के मारे जिससे अंतिम ओवर में 28 रन की जरूरत थी। एनगिडी के अंतिम ओवर में हालांकि 14 रन ही बने। विजय शंकर ने इस बीच एनगिडी पर छक्के के साथ 28 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।

टास हारकर बल्लेबाजी करने उतरे सुपरकिंग्स को वाटसन और डुप्लेसिस (33) की जोड़ी ने धीमी लेकिन सतर्क शुरुआत दिलाई। सुपरकिंग्स की टीम पहले चार ओवर में 25 रन ही बना सकी। लियाम प्लंकेट के पारी के पांचवें ओवर में वाटसन ने लगातार दो छक्के जड़े जबकि डुप्लेसिस ने भी छक्का मारा।

वाटसन ने आवेश खान पर छक्के के साथ छठे ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। वाटसन ने प्लंकेट के अगले ओवर में भी लगातार दो छक्के मारे।

उन्होंने स्पिनर राहुल तेवतिया पर छक्के के साथ 25 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और फिर इसी ओवर में एक और छक्का मारा। वाटसन ने विजय शंकर पर एक रन के साथ 11वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया।

इसे भी पढ़ें- IPL 2018: इन खिलाड़ियों को टीमों ने निकाल दिया था बाहर, अब ऐसे ले रहे हैं बदला

डुप्लेसिस पर तेज गति से रन बनाने का दबाव बढ़ रहा था और इसी कोशिश में वह विजय शंकर की गेंद को लांग आफ पर ट्रेंट बोल्ट के हाथों में खेल गए। उन्होंने 33 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके और एक छक्का मारा।

सुरेश रैना (01) भी अगले ओवर में कामचलाऊ स्पिनर ग्लेन मैक्सवेल की सीधी गेंद को पूरी तरह से चूककर बोल्ड हो गए। वाटसन ने विजय शंकर पर दो चौके मारे लेकिन अमित मिश्रा की गेंद को उठाकर मारने की कोशिश में प्लंकेट को कैच दे बैठे।

आवेश और मिश्रा ने इस बीच कुछ किफायती ओवर डाले लेकिन धोनी एक बार फिर आक्रामक अंदाज में दिखे। सीएसके के कप्तान ने मिश्रा पर छक्का जड़ने के बाद बोल्ट की लगातार गेंदों पर दो छक्के और एक चौका मारा। रायुडू ने भी इस बीच प्लंकेट के ओवर में दो चाके और एक छक्का जड़ा।

पारी के 19वें ओवर में आवेश की गेंद पर कोलिन मुनरो ने धोनी का आसान कैच टपकाया। धोनी ने इसी ओवर की अंतिम गेंद पर छक्का जड़ा।

धोनी ने अंतिम ओवर में बोल्ट पर छक्के के साथ टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। रायुडू इस बीच रन आउट हुए जिसके बाद धोनी ने अंतिम गेंद पर दो रन के साथ 22 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। प्लंकेट काफी महंगे साबित हुए और उन्होंने तीन ओवर में 52 रन लुटाए।

इनपुट- भाषा

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story