Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

5 कीवी खिलाड़ी, हारा हुआ मैच अकेले जीताने का रखते हैं माद्दा, पहली बार आ रहे हैं भारत

मौजूदा कीवी टीम के आधे खिलाड़ी भारत में पहली बार कोई मैच खेलने आ रहे हैँ, उनके लिए ये दौरा मुश्किल होने वाला है।

5 कीवी खिलाड़ी, हारा हुआ मैच अकेले जीताने का रखते हैं माद्दा, पहली बार आ रहे हैं भारत
X

भारतीय दौरे पर आई न्यूजीलैंड की टीम कल अपना पहला मैच भारत के खिलाफ मुंबई के ब्राबेन स्टेडियम में खेलेगी। हालांकि पहले अभ्यास मैंच में मिली करारी हार का बदला लेते हुए न्यूजीलैंड की टीम ने दूसरे अभ्यास मैच में अच्छा प्रदर्शन किया। दूसरे अभ्यास मैच में कीवी टीम ने भारतीय बोर्ड प्रेसिडेंटXI की टीम को 33 रनों से हरा दिया।

पहले बल्लेबाजी करते हुए कीवी टीम ने अपने सबसे अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर और युवा बल्लेबाज टॉम लेथम के शतक की बदौलत, 9 विकेट के नुकसान पर 343 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया था। जबाब मे बोर्ड प्रेसिडेंटXI की टीम 47.1 ओवर में 310 रन बनाकर ऑल-आउट हो गई।

यह भी पढ़ें: Ind Vs Nz: पहले वनडे में कोहली के नाम जुड़ जाएगा ये रिकार्ड

भारत की तरफ से ओपनिंग बैट्समैन करुण नायर और मध्यम क्रम में गुरकीरत सिंह ने अर्द्धशतक लगाया, लेकिन वो टीम को जीत नहीं दिलवा सके। कप्तान श्रेयस अय्यर भी कुछ कमाल नहीं कर पाये। बोर्ड की तरफ से तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट ने कीवी टीम के 4 विकेट चटकाए।

मौजूदा कीवी टीम के आधे खिलाड़ी भारत में पहली बार कोई मैच खेलने आ रहे हैँ, उनके लिए ये दौरा मुश्किल होने वाला है। विराट कोहली की अगुआई वाली भारतीय टीम ने जिस अंदाज में श्रीलंका और आस्ट्रेलिया को हराया है, कीवी टीम के यहां कोई मैच जीतना मुश्किल लग रहा है।

कीवी टीम में इस बार कुछ प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी हैं, कीवी कप्तान केन विलियमसन को इन युवा खिलाड़ियों से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद जरूर रहेगी।

ये हैं वो खिलाड़ी

1. ऑलराउंडर कोलिन डे ग्रैंडहोम

इस कीवी खिलाड़ी ने अपने वनडे करियर में अब तक खेले कुल 9 मुकाबलों में 169 रन बनाने के अलावा 7 विकेट भी लिए हैं। मूल रूप से जिम्बाब्वे का रहना वाला यह खिलाड़ी इंटरनैशनल लेवल पर भले ही कुछ खास नहीं कर सका हो, लेकिन ऑकलैंड के लिए डोमेस्टिक टूर्नमेंट में शानदार प्रदर्शन करते आया है। गेंद और बल्ले दोनों से धमाल मचाता है। देखने वाली बात यह होगी कि यह टैलेंटेड ऑलराउंडर भारत में कैसा प्रदर्शन करेगा?

2. फास्ट बोलर: एडम मिल्ने

25 साल के एडम मिल्ने ने अब तक 37 वनडे मैच खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 38 विकेट भी चटकाएं हैं। सिर्फ 18 साल की उम्र में फर्स्ट क्लास में डेब्यू करने वाले इस खिलाड़ी ने अपने दूसरी ही बॉल पर विकेट लेने का कारनामा किया था। मिल्ने में 150 किमी प्रति घंटा से अधिक की रफ्तार से गेंद फेकनें की क्षमता है। भारत में अगर उन्हें पिच से थोड़ी मदद मिली तो वे टीम इंडिया के लिए खतरा जरूर बन सकते हैं।

3. मिडल ऑर्डर के बैट्समैन कोलिन मुनरो

कोलिन मुनरो मिडल ऑर्डर के बैट्समैन हैं। उन्होंने अब तक 24 वनडे खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 25.26 की औसत से 480 रन बनाए हैं। कोलिन न्यू जीलैंड के सबसे बड़े उभरते विस्फोटक बल्लेबाजों में से एक हैं। उनके नाम इंटरनैशनल टी-20 में सिर्फ 14 बॉल में हाफ सेंचुरी लगाने का रिकॉर्ड भी है, जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ ईडन पार्क में लगाई थी। उनका खेलने का अंदाज भी काफी हद तक ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल से मिलता हैं।

4. ऑलराउंडर जॉर्ज वर्कर

कीवी टीम के ऑलराउंडर जॉर्ज वर्कर ने अब तक कुल 4 वनडे खेले हैं। इस दौरान उन्होंने एक हाफ सेंचुरी लगाई है। उन्होंने भारत-ए के खिलाफ 13 अक्टूबर को खेले गए मुकाबले में शानदार 108 रन की पारी खेली थी। अब देखना है कि सीनियर टीम में भारत के खिलाफ वह कैसा प्रदर्शन करते हैं।

5. विकेटकीपर ग्लेन फिलिप्स

इस लिस्ट में आखिरी नाम हैं विकेटकीपर ग्लेन फिलिप्स का। सिर्फ 20 साल का यह विकेटकीपर बल्लेबाज भारत में अपना वनडे डेब्यू कर सकता है। अब तक इंटरनैशनल लेवल पर सिर्फ एक टी-20 मैच खेले हैं। सिर्फ 16 लिस्ट-ए मैचों में 3 सेंचुरी उनके बल्लेबाजी क्षमता का बताती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story