Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IND vs SA: भारत ने अफ्रीका को 7 रन से हराकर रचा इतिहास, सीरीज पर भी कब्जा

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज का तीसरा और फाइनल मुकाबला केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला गया।

IND vs SA: भारत ने अफ्रीका को 7 रन से हराकर रचा इतिहास, सीरीज पर भी कब्जा
X

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज का तीसरा और फाइनल मुकाबला केपटाउन के न्यूलैंड्स स्टेडियम में खेला गया। भारत के 172 रनों के जवाब में दक्षिण अफ्रीका 6 विकेट के नुकसान पर 165 रन ही बना सकी और भारत ने इस मैच को 7 रन से जीतकर 2-1 से सीरीज भी अपने नाम कर लिया।

सुरेश रैना के 27 गेंद में 43 रन के बावजूद भारतीय टीम आक्रामक शुरूआत का फायदा नहीं उठा सकी और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ निर्णायक तीसरे टी-20 क्रिकेट मैच में सात विकेट पर 172 रन ही बना सकी। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने 40 गेंद में 47 रन बनाए लेकिन न्यूलैंड्स की धीमी पिच पर भारतीय बल्लेबाज तेजी से रन नहीं बना सके। धवन और रैना ने दूसरे विकेट के लिए 65 रन जोड़े लेकिन भारतीय बल्लेबाज रनगति को रफ्तार नहीं दे सके।

लाइव अपडेट

हार्दिक पांड्या अपने तीसरे ओवर के साथ। पहली बॉल पर ड्यूमिनी ने डबल लिया। अगली तीन गेंदों पर सिंगल। पांचवीं गेंद पर क्लासेन कैच आउट। भारत को तीसरी सफलता मिली।

दक्षिण अफ्रीका का दूसरा विकेट डेविड मिलर (24) के रूप में गिरा जिन्‍हें सुरेश रैना ने अक्षर पटेल से कैच कराया। 10 ओवर के बाद दक्षिण अफ्रीका का स्‍कोर दो विकेट खोकर 52 रन था। इसी ओवर में दक्षिण अफ्रीका के 50 रन पूरे हुए।

पारी का पहला ओवर भुवनेश्‍वर कुमार ने फेंका जिसकी चौथी गेंद पर हेंड्रिक्‍स ने चौका लगाकर दक्षिण अफ्रीका का खाता खोला। ओवर में 5 रन बने। जसप्रीत बुमराह की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में तीन रन बने। तीसरे ओवर में भुवनेश्‍वर ने रीजा हेंड्रिक्‍स (7)को शिखर धवन को आउट कर भारत को पहली सफलता दिलाई।

भारत के सात विकेट पर 172 रन

भारत को मैच शुरू होने से पहले ही करारा झटका लगा जब शानदार फार्म में चल रहे कप्तान विराट कोहली कमर में जकड़न के कारण आखिरी मैच नहीं खेल सके। उनकी जगह रोहित शर्मा ने कप्तानी की। श्रृंखला में लगातार तीसरी बार टॉस हारने के बाद भारत को बल्लेबाजी का न्यौता मिला। रोहित ने पहले ही ओवर में क्रिस मौरिस को दो चौके जड़े। जूनियर डाला ने उन्हें तीन मैचों में तीसरी बार आउट किया और उनके पहले ओवर की तीसरी गेंद पर वह पगबाधा आउट हो गए। रैना ने आते ही तेजी से रन बनाए। पहले छह ओवर में भारत का स्कोर एक विकेट पर 57 रन था।

दक्षिण अफ्रीका ने इस समय गेंदबाजी में बदलाव किया। जेपी डुमिनी ने पहला स्पैल काफी किफायती फेंका जिससे भारत का रनरेट गिरा। इसके बाद रैना भी तबरेज शम्सी की गेंद पर लांगआन में कैच देकर चले गए। दूसरे छोर पर धवन सहज नहीं दिख रहे थे और दो जीवनदान का भी फायदा नहीं उठा सके। शम्सी ने दो बार उनका कैच छोड़ा। पहले मौरिस की गेंद पर शार्ट थर्डमैन में जब उनका स्कोर नौ रन था और फिर 13वें ओवर में आरोन फागिंसो की गेंद पर जब वह 34 रन बनाकर खेल रहे थे।

भारत के 100 रन 12वें ओवर में बने। धवन और मनीष पांडे ( 13 ) ने तीसरे विकेट के लिये 32 रन जोड़े। पांडे को डाला ने डीप में लपकवाया। इसके 12 गेंद बाद धवन भी रन आउट हो गए। हार्दिक पंड्या 17 गेंद में 21 रन बनाकर आउट हुए जबकि एम एस धोनी ने 11 गेंद में 12 रन बनाए। धोनी, पंड्या और दिनेश कार्तिक ( 13 ) आठ गेंद के भीतर पवेलियन लौट गए।

भारत को 13वें ओवर में मनीष पांडे के रूप में तीसरा झटका लग चुका है। मैदान पर बल्लेबाजी के लिए हार्दिक पांड्या आ चुके हैं। पांडे, जूनियर डाला की गेंद पर कैच आउट हुए।

पारी के आठवें ओवर में चाइनामैन तबरेज शम्‍सी बॉलिंग के लिए आए। यह ओवर किफायती रहा और इसमें केवल तीन रन बने। टीम इंडिया का दूसरा विकेट सुरेश रैना (43 रन, 27 गेंद, पांच चौके और एक छक्‍का) के रूप में गिरा, जिन्‍हें शम्‍सी ने बाउंड्री पर बेहरदीन से कैच कराया।

5 ओवर के बाद टीम इंडिया का स्‍कोर एक विकेट खोकर 47 रन था। छठे ओवर में रैना ने मॉरिस को चौका लगाकर भारतीय टीम को 50 रन के पार पहुंचाया। इस ओवर में धवन को जीवनदान भी मिला जब शम्‍सी ने कैच ड्रॉप कर दिया।

भारत को 1.3 ओवर में जूनियर डाला की गेंद पर पहला झटका लगा। रोहित 11 रन बनाकर आउट हुए। मैदान पर सुरेश रैना ने आते ही पहली गेंद पर छक्का जड़ा।

पहला ओवर क्रिस मॉरिस ने फेंका जिसकी पहली ही गेंद नोबॉल रही, हालांकि रोहित फ्री हिट पर केवल एक रन ही ले पाए। इस ओवर की अंतिम दो गेंदों पर रोहित ने चौके जमाए। पहले ओवर में 13 रन बने।

इसे भी पढ़े: IND vs SA: तीसरे टी-20 के बाद टीम इंडिया को ये खास गिप्ट मिलना तय

भारतीय गेंदबाजों से निपटना आसान नहीं

अगर टीम इंडिया के गेंदबाजों की बात करें तो टीम के पास भुवनेश्वर कुमार, शार्दूल ठाकुर, जयदेव उनादकट, हार्दिक पंड्या और युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ी हैं, जिसने इस सीरीज में दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों के लिए मुश्किल खड़ी कर दी हैं। भारतीय गेंदबाजों ने अहम मौकों पर विकेट चटकाएं हैं और अपनी टीम को जीत भी दिलाई हैं। अफ्रीकी बल्लेबाज कुछ मौकों को छोड़ दें तो भारतीय स्पिनरों के सामने बेबस ही नजर आई हैं।

न्यूलैंड्स मैदान का रिकॉर्ड

भारत ने न्यूलैंड्स पर कभी टी-20 क्रिकेट नहीं खेला है। यहां भारत का यह पहला टी-20 मैच है जबकि दक्षिण अफ्रीका ने यहां आठ टी-20 खेलकर पांच गंवाये हैं। उसे दो जीत 2007 टी-20 विश्व कप में मिली और द्विपक्षीय श्रृंखला में एकमात्र जीत 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ मिली थी। दक्षिण अफ्रीका ने दिखा दिया है कि टी-20 प्रारूप उसे अधिक रास आता है। उसने वर्षाबाधित पिंक वनडे जीता और इस श्रृंखला के पहले मैच में भी 204 रन का लक्ष्य हासिल करने के करीब पहुंचा था।

टीमें:

भारत: शिखर धवन, रोहित शर्मा (कप्तान), सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर

साउथ अफ्रीका : जेपी डुमिनी (कप्तान), फरहान बेहार्डियन, जूनियर डाला, रेजा हेंडरिक्स, क्रिस्टियान जोंकर, हेनरिक क्लासेन, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, डेन पीटरसन, आरोन फागिंसो, एंडिल फेहलुकवायो, तबरेज शम्सी

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story