Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दक्षिण अफ्रीका को पछाड़ भारत ने हासिल की फीफा अंडर-17 की मेजबानी

भारत 2017 में फीफा अंडर-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप की मेजबानी करेगा।

दक्षिण अफ्रीका को पछाड़ भारत ने हासिल की फीफा अंडर-17 की मेजबानी
नई दिल्ली. भारत 2017 में फीफा अंडर-17 फुटबॉल वर्ल्ड कप की मेजबानी करेगा। फुटबॉल की विश्व संस्था ने ब्राजील के सलवाडोर डी बाहिया में अपनी कार्यकारी कमेटी की बैठक में इस महाकुंभ की मेजबानी के लिए भारत को चुना।

यह भारतीय फुटबाल के लिए एक ऐतिहासिक दिन है। भारत ने मेजबानी की दौड़ में शामिल अन्य देशों दक्षिण अफ्रीका, आयरलैंड और उज्बेकिस्तान को पीछे छोड़ा और हर दो वर्ष में होने वाले 24 देशों के इस टूर्नामेंट के आयोजन का अधिकार लिया है।
भारत पहली बार इतने बड़े फुटबाल टूर्नामेंट का आयोजन करेगा. यह फीफा का पहला टूर्नामेंट है जिसकी मेजबानी भारत को मिली है। इससे पहले भारत ने 2006 में एशियाई फुटबाल परिसंघ की युवा चैंपियनशिप (अंडर-20) और 2008 में एएफसी चैलेंज कप की मेजबानी की थी लेकिन उसे इससे पहले फीफा टूर्नामेंट के आयोजन का मौका नहीं मिला

मेजबान देश होने के कारण भारत अपने इतिहास में पहली बार इस टूर्नामेंट में भाग लेगा. अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ के महासचिव कुशाल दास ने कहा, ‘हां, भारत ने 2017 अंडर-17 विश्व कप फुटबाल की मेजबानी हासिल कर ली है। ’

भारत को इस बड़े टूर्नामेंट की मेजबानी छह से आठ शहरों में करनी होगी। नयी दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, चेन्नई, गुवाहाटी, मडगांव, कोच्चि और बेंगलूर में इन मैचों का आयोजन किया जा सकता है

फीफा अध्यक्ष सैप ब्लाटर और बाद में उसके सचिव जेरोम वाल्के ने भारत दौरे में जरूरी आधारभूत ढांचे के निर्माण और सुविधाओं के उपलब्ध होने पर यहां की मेजबानी का पक्ष लिया था। लेकिन भारत के लिये मेजबानी हासिल करने की राह आसान नहीं रही। जनवरी में भारत की शुरूआती बोली नामंजूर कर दी गयी क्योंकि फीफा सरकार से कई विषयों पर स्पष्ट गारंटी चाहता था।

मेजबानी के दावेदार देशों को प्रसारकों और प्रायोजकों को करों में छूट, विदेशी मुद्रा पेषण, सुरक्षा, परिवहन, खिलाड़ियों के रहने और वीजा आदि पर लिखित गारंटी देनी होती थी.

खेल मंत्रालय ने कहा,‘स्टेडियमों को बेहतर बनाने के लिये 95 करोड़ रूपये की राशि राज्य सरकारों को अतिरिक्त केंद्रीय सहायता के तौर पर मुहैया करायी जाएगी. इसके अलावा 25 करोड़ रूपये की राशि टूर्नामेंट के सही तरह से आयोजन के लिये रखी जाएगी’

Next Story
Top