Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जूनियर हॉकी विश्वकप: ऑस्ट्रेलिया को हराकर फाइनल में पहुंचा भारत

गोलकीपिंग की बदौलत भारत में ऑस्ट्रेलिया पर यह जीत दर्ज की।

जूनियर हॉकी विश्वकप: ऑस्ट्रेलिया को हराकर फाइनल में पहुंचा भारत
नई दिल्ली. हॉकी जूनियर वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से हराकर टूर्नमेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया है। इस मैच के हीरो रहे विकास दहिया, जिनकी शानदार गोलकीपिंग की बदौलत भारत में ऑस्ट्रेलिया पर यह जीत दर्ज की। मैच के फुल टाइम तक दोनों टीमें 2-2 से बराबर थीं, इसके बाद पेनल्टी शूटआउट से इसका फैसला हुआ। इस दौरान विकास दहिया ने शानदार खेल दिखाया और ऑस्ट्रेलिया के पहले 5 में से 3 पेनल्टी शूआउट को शानदार तरीके से रोक मैच में जीत दिला दी। वहीं भारत ने अपने चार के चार स्ट्रोक पर गोल दागे। विकास को उनकी शानदार गोलकीपिंग के लिए मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला।
भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर दूसरा गोल दागा
इससे पहले दोनों टीमें मैच के फुल टाइम तक 2-2 से बराबर रहीं। भारत इस मैच में करीब 40 मिनट तक के खेल तक ऑस्ट्रेलिया से पीछे था, लेकिन एक बार जब भारत की ओर से 42वें मिनट में गुरंदिर ने गोल दाग दिया तो इसके बाद भारतीय टीम लय में लौट आई और ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाना शुरू कर दिया। पहले गोल के छह मिनट बाद ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर दूसरा गोल दाग कर उस पर बढ़त बना ली। इस मैच में भारत ने शानदार डिफेंस दिखाया और ऑस्ट्रेलिया के कई मौकों को गोल में तब्दील होने से बचाया। इस मैच में गोलकीपर विकास दहिया शानदार लय में दिखे। पेनल्टी शूटआउट से पहले भी उन्होंने कई मौकों पर ऑस्ट्रेलिया के शॉट्स को गोल पोस्ट के बाहर रोका।
ऑस्ट्रेलिया ने कोई गोल नहीं खाया
ऑस्ट्रेलिया पर 2-1 की बढ़त बनाने के बाद करीब 10 मिनट तक भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया पर यह बढ़त कायम रखी। इसके बाद मैच के 57वें मिनट में ऑस्ट्रेलिया ने गोल कर स्कोर को लेवल कर लिया। हालांकि इसके बाद भी भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के डी में मौके तलाशती रही, लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने कोई गोल नहीं खाया। इस बीच कुछ मौकों पर ऑस्ट्रेलिया ने भी भारत पर हमले करने के मौके ढूंढे, लेकिन भारतीय डिफेंस ने कंगारू टीम को भी कोई मौका नहीं दिया। मैच के अंतिम तीन मिनट में पर गेंद पर अपना नियंत्रण बनाए रखा। भारतीय टीम इन 3 मिनटों में कोई गोल तो नहीं कर पाई, लेकिन उसने गेंद पर नियंत्रण बनाए रखने से उसने ऑस्ट्रेलिया को भी कोई मौका नहीं दिया। इसके बाद पेनल्टी शूटआउट में भारत ने कंगारू टीम की एक नहीं चलने दी। भारत ने अपने हर पेनल्टी स्ट्रोक पर कंगारू टीम पर गोल दागा।
साभार: एनबीटी
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top