Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IND vs NZ 2nd ODI: भारत फिर एकतरफा जीता, न्यूजीलैंड को 90 रन से हराया, कुलदीप और रोहित ने मचाया धमाल

बल्लेबाजों के कमाल के बाद गेंदबाजों के धमाल से भारत ने शनिवार को दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में न्यूजीलैंड को 90 रन से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-0 की बढ़त बना ली।

IND vs NZ 2nd ODI: भारत फिर एकतरफा जीता, न्यूजीलैंड को 90 रन से हराया, कुलदीप और रोहित ने मचाया धमाल

IND vs NZ 2nd ODI India Won by 90 Run

माउंट मोनगानुई। बल्लेबाजों के कमाल के बाद गेंदबाजों के धमाल से भारत ने शनिवार को यहां दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में न्यूजीलैंड को 90 रन से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-0 की बढ़त बना ली। भारत के 325 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए न्यूजीलैंड की टीम कुलदीप यादव (45 रन पर चार विकेट), भुवनेश्वर कुमार (42 रन पर दो विकेट) और युजवेंद्र चहल (52 रन पर दो विकेट) की उम्दा गेंदबाजी के सामने 40.2 ओवर में 234 रन पर ढेर हो गई।

केदार जाधव (35 रन पर एक विकेट) और मोहम्मद शमी (43 रन पर एक विकेट) ने भी एक-एक विकेट चटकाया। न्यूजीलैंड ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और टीम कभी लक्ष्य हासिल करने की स्थिति में नहीं दिखी। टीम के शीर्ष छह में शामिल सभी बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे लेकिन कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाया। आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे डग ब्रेसवेल ने सर्वाधिक 57 रन बनाए।

भारतीय बल्लेबाजों का दिखा दम

इससे पहले भारत ने सलामी बल्लेबाजों रोहित शर्मा (87) और शिखर धवन (66) के अर्धशतक तथा दोनों के बीच पहले विकेट की 154 रन की साझेदारी से चार विकेट पर 324 रन बनाए। कप्तान विराट कोहली (43) और अंबाती रायुडू (47) ने भी उम्दा पारी खेली। महेंद्र सिंह धोनी (33 गेंद में नाबाद 48, पांच चौके और एक छक्का) और केदार जाधव (10 गेंद में नाबाद 22, तीन चौके और एक छक्का) ने पांचवें विकेट के लिए 4.2 ओवर में 53 रन की अटूट साझेदारी करके भारत का स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया। इन दोनों की पारियों की बदौलत भारत ने अंतिम पांच ओवर में 57 रन बटोरे। न्यूजीलैंड के लिए तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (61 रन पर दो विकेट) और लोकी फर्ग्युसन (81 रन पर दो विकेट) सबसे सफल गेंदबाज रहे। भारत ने नेपियर में पहला वनडे आठ विकेट से जीता था। श्रृंखला का तीसरा मैच इसी मैदान पर 28 जनवरी को खेला जाएगा।

न्यूजीलैंड की शुरुआत खराब रही

लक्ष्य का पीछा करने उतरे न्यूजीलैंड की शुरुआत खराब रही और उसने पांचवें ओवर में ही मार्टिन गुप्टिल (15) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने भुवनेश्वर की गेंद पर थर्ड मैन पर चहल को कैच थमाया। गुप्टिल इससे पहले 12 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे थे तब भुवनेश्वर की गेंद पर विकेटकीपर धोनी ने उनका कैच टपका दिया था। कोलिन मुनरो ने भुवनेश्वर पर पारी का पहला छक्का जड़ा।

कप्तान केन विलियमसन (20) ने शमी पर लगातार दो छक्के और चौका लगाया लेकिन इसी ओवर में गेंद को विकेटों पर खेल गए। सलामी बल्लेबाज मुनरो 31 रन बनाने के बाद चहल की सीधी गेंद को रिवर्स स्वीप करने की कोशिश में पगबाधा हुए। रोस टेलर (22) और टाम लैथम (34) ने 17वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन तक पहुंचाया। टेलर को हालांकि जाधव के अगले ओवर में धोनी ने शानदार तरीके से स्टंप किया। कुलदीप ने अपने तीसरे ही ओवर में लैथम को पगबाधा करके न्यूजीलैंड का स्कोर पांच विकेट पर 136 रन किया।

कुलदीप ने कोलिन डि ग्रैंडहोम (03) को रायुडू के हाथों कैच कराके न्यूजीलैंड को छठा झटका दिया और फिर हेनरी निकोल्स (28) और ईश सोढ़ी (00) की पारियों का भी अंत किया। ब्रेसवेल ने इसके बाद आक्रामक तेवर दिखाए। उन्होंने कुलदीप पर एक जबकि चहल पर दो छक्के मारे। उन्होंने कुलदीप की गेंद पर एक रन के साथ 35 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। ब्रेसवेल हालांकि भुवनेश्वर की गेंद को उठाकर मारने की कोशिश में लांग आन पर धवन को कैच दे बैठे। उन्होंने 46 गेंद की पारी में पांच चौके और तीन छक्के मारे। बोल्ट ने भुवनेश्वर की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का मारा लेकिन फर्ग्युसन अगले ओवर में चहल की गेंद को लांग आन पर विजय शंकर के हाथों में खेल गए जिससे भारत ने जीत दर्ज की।

रोहित और धवन ने शानदार शुरुआत दिलाई

इससे पहले कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद रोहित और धवन ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। रोहित ट्रेंट बोल्ट के पहले ओवर में थोड़े असहज दिखे लेकिन इसके बाद उन्होंने आकर्षक शाट खेले। धवन के साथ मिलकर रोहित ने नौवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। रोहित ने ईश सोढ़ी पर पारी का पहला छक्का जड़ा। धवन ने भी ग्रैंडहोम पर दो चौके मारे। धवन 30 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब ग्रैंडहोम की गेंद पर गुप्टिल ने प्वाइंट पर उनका कैच टपका दिया।

रोहित ने फर्ग्युसन पर छक्के के साथ 62 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और टीम का स्कोर 18वें ओवर में 100 रन के पार पहुंचाया। इन दोनों बल्लेबाजों के बीच यह 14वीं शतकीय साझेदारी है। धवन ने ग्रैंडहोम पर दो रन के साथ 53 गेंद में अर्धशतक पूरा किया और अगली दो गेंदों पर दो चौके मारे। धवन इसके बाद बोल्ट की गेंद पर विकेटकीपर टाम लैथम को कैच दे बैठे। उन्होंने 67 गेंद का सामना करते हुए नौ चौके मारे। कप्तान कोहली ने फर्ग्युसन पर दो चौकों के साथ शुरुआत की लेकिन रोहित इस तेज गेंदबाज पर बड़ा शाट खेलने की कोशिश में डीप स्क्वायर लेग पर ग्रैंडहोम को कैच दे बैठे।

रायुडू ने फर्ग्युसन पर लगातार दो चौके मारे जबकि कोहली ने तेज गेंदबाज डग ब्रेसवेल पर लगातार दो चौकों के साथ 35वें ओवर में भारत का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया। इस मैच में भी कोहली अर्धशतक से चूक गए और 45 गेंद में 43 रन बनाने के बाद बोल्ट की गेंद पर सोढ़ी को कैच दे बैठे जिससे रायुडू के साथ उनकी 64 रन की साझेदारी का अंत हुआ। कोहली लगातार तीसरे मैच में 40 रन के स्कोर को पार करने के बावजूद अर्धशतक जड़ने में नाकाम रहे।

रायुडू ने धोनी के साथ मिलकर स्कोर 250 रन के पार पहुंचाया लेकिन 49 गेंद में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 47 रन बनाने के बाद वह फर्ग्युसन की गेंद पर उन्हीं को वापस कैच दे बैठे। धोनी 29 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब उन्होंने फर्ग्युसन की गेंद को हवा में खेला लेकिन थर्ड मैन पर ग्रैंडहोम ने कैच टपकाया और गेंद चार रन के लिए चली गई। धोनी ने बोल्ट पर छक्के के साथ 49वें ओवर में भारत का स्कोर 300 रन के पार पहुंचाया। फर्ग्युसन के पारी के अंतिम ओवर की पहली तीन गेंद पर जाधव ने दो चौके और एक छक्का मारा जबकि धोनी ने भी चौका जड़ा जिससे ओवर में 21 रन बने।

Share it
Top