Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IND vs AUS 2019 : ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत की दस बड़ी बातें

भारतीय क्रिकेट टीम ने 71 साल के लंबे इंतजार को खत्म करते हुए ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली बार टेस्ट श्रृंखला जीतकर सोमवार को अपने क्रिकेट इतिहास में स्वर्णिम अध्याय जोड़ा। आगे जानें ऐतिहासिक जीत की दस बड़ी बातें।

IND vs AUS 2019 : ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की ऐतिहासिक जीत की दस बड़ी बातें

IND vs AUS 2019

भारतीय क्रिकेट टीम ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतकर 71 सालों का सूखा आखिरकार खत्म कर ही दिया। चार टेस्ट मैचों की सीरीज 2-1 से जीतकर टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया। बता दें कि भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर पहली बार कोई टेस्ट सीरीज जीता है। सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया चौथा और अंतिम टेस्ट मैच खराब मौसम और बारिश की वजह से ड्रा पर समाप्त हुआ हालांकि भारत तब तक श्रृंखला 2-1 से अपने नाम कर चुका था। इस जीत में भरोसेमंद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और भारतीय तेज गेंदबाजों की अहम भूमिका रही।

IND vs AUS: भारत ने ऑस्ट्रेलिया में 2-1 से सीरीज जीतकर रचा इतिहास, 71 सालों में पहली बार हुआ ऐसा

आगे जानें ऐतिहासिक जीत की दस बड़ी बातें

1 भारत ने 2017 में अपने घरेलू मैदानों पर श्रृंखला 2-1 से जीतकर यह ट्रॉफी जीती थी। भारत ने स्वतंत्रता मिलने के कुछ दिन बाद पहली बार 1947-48 में लाला अमरनाथ की अगुवाई में ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था।

2 तब उसका सामना सर डान ब्रैडमैन की अजेय ऑस्ट्रेलियाई टीम से था। तब से लेकर अब जाकर भारत का श्रृंखला जीतने का इंतजार विराट कोहली की टीम ने खत्म किया।

3 एक और किला फतह करने से खुश कोहली ने कहा कि सबसे पहले मैं यह कहना चाहता हूं कि मुझे इस टीम का हिस्सा होने पर कभी इतना अधिक गर्व नहीं हुआ जितना अभी इस समय हो रहा है। हमने एक संस्कृति विकसित की। हमारे बदलाव की शुरुआत यही पर हुई थी जहां मैंने कप्तान पद संभाला था और मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि चार साल बाद हम यहां जीतने में सफल रहे।

4 भारत के पास श्रृंखला 3-1 से जीतने का मौका था लेकिन बारिश ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया। भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 622 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया 300 रन पर आउट हो गया और उसे अपनी धरती पर पिछले 30 साल में पहली बार फालोआन के लिये उतरना पड़ा। ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना किसी नुकसान के छह रन बनाये।

5 बारिश की वजह से पांचवें और अंतिम दिन का खेल नहीं हो पाया और अंपायरों ने लंच के बाद मैच ड्रा करने का फैसला किया। भारतीय टीम ने एससीजी पर विजय का जश्न बनाया तथा भारत और ऑस्ट्रेलिया के प्रशसंकों ने तालिया बजाकर उनका साथ दिया।

6 भारत के महानतम सलामी बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने कहा कि यह भारतीय क्रिकेट के लिए ऐतिहासिक क्षण है। आस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी इतनी कमजोर थी कि अगर पूरे दिन का खेल हुआ होता तो भारत चौथा टेस्ट मैच भी जीत जाता।

7 इस जीत को भारत की विदेशों में ऐतिहासिक विजय में शामिल किया जाएगा। इसे अजित वाडेकर की टीम की 1971 में वेस्टइंडीज और इंग्लैंड में, कपिल देव की टीम की 1986 में इंग्लैंड में और राहुल द्रविड़ की अगुवाई वाली टीम की 2007 में इंग्लैंड में जीत की बराबरी पर रखा जाएगा।

8 पुजारा ने भारत की श्रृंखला में जीत में अहम भूमिका निभायी। उन्होंने श्रृंखला में 74.42 की औसत से 521 रन बनाये जिसमें तीन शतक शामिल हैं। उन्हें मैन आफ द मैच और मैन आफ द सीरीज चुना गया।

9 जसप्रीत बुमराह ने श्रृंखला में 21 विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया का कोई भी बल्लेबाज श्रृंखला में शतक नहीं जमा पाया। उसकी तरफ से मार्कस हैरिस की चौथे टेस्ट मैच में 79 रन की पारी उच्चतम स्कोर रहा। उसके बल्लेबाजों के लिए बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव को खेलना आसान नहीं रहा।

10 युवा पृथ्वी शॉ चोटिल होने के कारण श्रृंखला में नहीं खेल पाये लेकिन तीसरे टेस्ट मैच में टीम से जुड़े मयंक अग्रवाल ने मौके का पूरा फायदा उठाया। और उन्होंने तीन पारियों में दो अर्धशतक लगाए।

11 ऋषभ पंत ने 350 रन बनाए और विकेटकीपर के रूप में एक श्रृंखला में सर्वाधिक शिकार का भारतीय रिकॉर्ड बनाया। भारत अब इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप की तैयारियों में जुट जाएगा। इसकी शुरुआत वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 12 जनवरी से शुरू होने वाली तीन मैचों की वनडे श्रृंखला से करेगा।

Share it
Top