Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इमरान खान के नाम है आज भी टीम इंडिया के खिलाफ है ये बड़ा रिकॉर्ड, धोनी विराट भी नहीं कर सके ब्रेक

क्रिकेटर से पीएम बनने जा रहे इमरान खान आज एक मशहूर नाम बन चुका है जो पाकिस्तान की नई किस्म लिखने जा रहे हैं। अगर वो पाकिस्तान के पीएम बनते हैं तो इससे भारत और पाकिस्तान को कितना फायदा होगा।

इमरान खान के नाम है आज भी टीम इंडिया के खिलाफ है ये बड़ा रिकॉर्ड, धोनी विराट भी नहीं कर सके ब्रेक

क्रिकेटर से पीएम बनने जा रहे इमरान खान आज एक मशहूर नाम बन चुका है जो पाकिस्तान की नई किस्म लिखने जा रहे हैं। अगर वो पाकिस्तान के पीएम बनते हैं तो इससे भारत और पाकिस्तान को कितना फायदा होगा।

इससे पहले भारत करते हैं इमरान खान के क्रिकेट कॅरियर की। जिन्होंने पाकिस्तान क्रिकेट को एक नई ऊचाईयों पर पहुंचा और यहीं नहीं उनकी ही कप्तानी में पाक ने विश्व कप भी जीता। बता दें कि उन्‍होंने अपने टेस्‍ट क्रिकेट करियर में एक भी नो बॉल नहीं फेंकी। ये उनका एक अनोखा रिकॉर्ड है।

ये भी पढ़ें - विराट कोहली नहीं MS धोनी ही हैं टीम इंडिया के कप्तान, ये हम नहीं BCCI खुद कह रही है, जानें पूरा मामला

बता दें कि दुनिया के सबसे बेहतरीन ऑलराउंडरों में इमरान की गिनती होती है। उन्होंने कुल 88 टेस्‍ट खेले हैं। 38 रन के औसत के साथ 3,807 रन बनाए हैं और 362 विकेट लिए हैं। इसके अलावा 175 वनडे भी खेले हैं।

भारत और पाकिस्तान के बीच कई बार वनडे, टेस्ट, टी20 मैच हो चुके हैं लेकिन इमरान की कप्तान में हुए टेस्ट सीरीज में पाकिस्तान का अपना एक रिकॉर्ड है। जिसे आज तक कोई नहीं तोड़ पाया है। इमरान की कप्तानी में पाकिस्तान ने कभी भारत से टेस्ट सीरीज में एक भी मैच नहीं हारा है।

बता दें कि उनकी कप्‍तानी में पाकिस्‍तान ने भारत के साथ 15 टेस्‍ट मैच खेले हैं। इनमें से 4 पाक जीता और बाकी ड्रॉ रहे। साल 1982 से 83 के बीच भारत के साथ सीरीज में उन्‍होंने भारत के खिलाफ सबसे अच्छा प्रदर्शन किया था। उस सीरीज में 247 रन बनाते हुए उन्‍होंने 40 विकेट लिए थे और पाकिस्‍तान ने 3-0 से सीरीज पर कब्जा किया।

ये भी पढ़ें- ये हैं दुनिया के टॉप-5 क्रिकेट स्टेडियम, जानें इसकी खासियत, भारत के ये तीन स्टेडियम हैं शामिल

1982 में पाकिस्‍तान क्रिकेट का कप्‍तान बनने के बाद अगले एक दशक तक वह पूरी तरह से पाक क्रिकेट पर छाए रहे। वो ऐसे कप्तान रहे जिन्होंने संन्यास लेने के बाद भी क्रिकेट में वापसी की थी।

Share it
Top