Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अपने पिता के बेहद करीब थे हार्दिक पांड्य, निधन के बाद इन फोटोज के जरिए कर रहें है याद

भारत के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या और क्रुणाल पंड्या के पिता हिमांशु की हार्ट अटैक से आज सुबह मौत हो गई। पंड्या अपने पिता को याद करते हुए अपने आंसू नहीं रोक पा रहे हैं।

अपने पिता के बेहद करीब थे हार्दिक पांड्य, निधन के बाद इन फोटोज के जरिए कर रहें है याद
X

फाइल फोटो


भारत के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या और क्रुणाल पंड्या के पिता हिमांशु का शनिवार की सुबह निधन हो गया। बताया जा रहा है कि उनके पिता का निधन दिल का दौरा पड़ने के कारण हुआ है। हार्दिक पांड्या अपने पिता के बेहद करीब थे, क्योंकि उन्होंने पांड्या और कुणाल को क्रकेटर बनाने के लिए बहुत त्याग किया था। वे अपने पिता को फोटों के जरिए याद कर रहे हैं और अपने आंसूओ को रोक नहीं पा रहें है।


हिंमाशु पंड्या ने दोनों बेटों को खिलाड़ी बनाने के लिए अपना बिजनेस तक बंद कर दिया और दोनों बच्‍चों को बेहतर क्रिकेट की सुविधा मुहैया कराने के लिए वे दूसरे शहर में जाकर किराया पर रहने लगे थे और उन्‍होंने किरण मोरे एकेडमी में दोनों का एडमिशन करवाया।


एसोसिएशन के सचिव अजीत लेले ने बताया कि क्रुणाल, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में बड़ौदा का नेतृत्व कर रहे थे। हार्दिक राष्ट्रीय टी 20 टूर्नामेंट नहीं खेल रहे हैं क्योंकि वह इंग्लैंड के खिलाफ व्हाइट-बॉल श्रृंखला की तैयारी कर रहे हैं।

हिमांशु ने अपने क्रिकेटर बेटों की सफलता में अहम भूमिका निभाई थी। क्रुणाल ने उत्तराखंड के खिलाफ शुरुआती गेम में 76 रन की मैच विजयी पारी खेली और पहले तीन मैचों में चार विकेट भी लिए। भारतीय टीम के तेज गेंदबाज इरफान पठान ने ट्विटर पर अपनी संवेदना व्यक्त की।


पठान ने ट्वीट किया कि याद रखें कि मोतीबाग में पहली बार चाचा से मिलना। वह अपने बेटों के लिए अच्छी क्रिकेट खेलने के लिए उत्सुक थे। मेरी संवेदना आप और परिवार को है। भगवान आपको इस कठिन समय से गुजरने की शक्ति दें।

Next Story