Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मोहम्मद शमी मामले में BCCI पर भड़के पूर्व क्रिकेटर, कहा- ''लोढ़ा कमिटी के सिफारिशों की हो रही है अनदेखी''

उनके खिलाफ भारतीय कानून के तहत धारा 498ए, 323, 307, 376, 506, 328 और 34 के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। अगर शमी को कोर्ट से जमानत नहीं मिलती है तो उनका जेल जाना तय है।

मोहम्मद शमी मामले में BCCI पर भड़के पूर्व क्रिकेटर, कहा-

क्रिकेटर मोहम्मद शमी पर उनकी पत्नी द्वारा गंभीर आरोप लगाने और केस दर्ज होने के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने उनका कान्ट्रेक्ट होल्ड कर लिया है।

इसी बात पर भारत के दो पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान बीसीसीआई पर भड़क गए और कहा बोर्ड को माननीय सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार लोढ़ा कमिटी की सिफारिशों के अनुरूप फैसला लेना चाहिए।

आपको बता दें कि हाल ही में उनकी पत्नी ने सोशल मीडिया पर उनके चैट के कुछ स्क्रीन शॉट्स शेयर किया था। बाद में उनपर और उनके परिवार पर मुकदमा भी दायर करवाई है।

इस विवाद पर पूर्व क्रिकेटर और यूपी के नेता चेतन चौहान ने कहा है कि बीसीसीआई मोहम्मद शमी का कॉन्ट्रेक्ट नहीं रोक सकते है, यह मुद्दा क्रिकेट से नहीं जुड़ा है और अभी तक वह दोषी साबित नहीं हुए है।

ये भी पढ़े: रबाडा को ज्यादा आक्रामकता दिखाना पड़ सकता भारी, आईसीसी लगा सकता है बैन

मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी के विवाद पर उन्होंने आगे कहा है कि सुप्रीम कोर्ट देश की सर्वोच्च अदालत है। यह बेहतर होगा कि बीसीसीआई किसी टकराव में नहीं जाए और लोढ़ा कमिटी की सिफारिशों का पालन करे।

इस विवाद पर पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी ने कहा है कि बीसीसीआई को लोढ़ा कमिटी की सिफारिशों का पालन करना चाहिए, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है ना कि सुझाव, बीसीसीआई को सूप्रीम कोर्ट का सम्मान करना चाहिए।

ये भी पढ़े: शमी ने भाई से संबंध बनाने के लिए किया मजबूर: हसीन जहां

गौरतलब है कि शमी की पत्नी हसीन जहां ने उन पर गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने शमी पर अवैध संबंध बनाने का और मार-पीट का आरोप लगाया है। शमी के खिलाफ कोलकता पुलिस ने एफआईआर भी दर्ज की है।

उनके खिलाफ भारतीय कानून के तहत धारा 498ए, 323, 307, 376, 506, 328 और 34 के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। अगर शमी को कोर्ट से जमानत नहीं मिलती है तो उनका जेल जाना तय है।

Share it
Top