Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

#FIFAWC2018Final: इंग्लैंड के हैरी केन को मिला गोल्डन बूट, जानें किस खिलाड़ी को मिला कौन सा अवॉर्ड

इंग्लैंड की टीम भले ही फीफा विश्व कप में चौथे स्थान पर रही पर कप्तान हैरी केन ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा छह गोल कर गोल्डन बूट हासिल करने में सफल रहे।

#FIFAWC2018Final: इंग्लैंड के हैरी केन को मिला गोल्डन बूट, जानें किस खिलाड़ी को मिला कौन सा अवॉर्ड
X

इंग्लैंड की टीम भले ही फीफा विश्व कप में चौथे स्थान पर रही पर कप्तान हैरी केन ने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा छह गोल कर गोल्डन बूट हासिल करने में सफल रहे। फुटबॉल के इस महासमर के शुरू होने से पहले इंग्लैंड को बड़ा दावेदार नहीं माना जा रहा था लेकिन केन ने अपने प्रदर्शन से टीम का मनोबल बढ़ाने के साथ सेमीफाइनल में भी पहुंचाया।

उन्होंने छह मैच खेले और इतने ही गोल किये। केन फुटबॉल विश्व कप में गोल्डन बूट जीतने वाले इंग्लैंड के दूसरे खिलाड़ी है। इससे पहले 1986 में मैक्सिको में हुए विश्व कप में गैरी लिनाकर ने गोल्डन बूट जीता था। लिनाकर ने भी छह गोल किये थे।

इसे भी पढ़ें: Wimbledon 2018 Final: नोवाक जोकोविच चौथी बार बने विम्बलडन चैम्पियन, 13वीं ग्रैंडस्लैम ट्रॉफी जीती

पुर्तगाल के कप्तान क्रिस्टियानो रोनाल्डो, बेल्जियम के रोमेलु लुकाकु और रूस के डेनिस चेरीशेव चार गोल के साथ संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रहे। फाइनल में गोल करने वाले फ्रांस के युवा सनसनी कालियान एमबापे टूर्नामेंट में तीन गोल ही कर सके।

मौजूदा समय में फुटबॉल के सबसे बड़े खिलाड़ियों में शामिल अर्जेंटीना के लियोनेल मेस्सी और ब्राजील के नेमार विश्व कप में क्रमश: एक और दो गोल ही कर पाये। क्रोएशिया के लुका मॉड्रिक को गोल्डन बॉल का खिताब मिला, यह पुरस्कार टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी को दिया जाता है।

मॉड्रिक ने टूर्नामेंट के सात मैचों में तीन गोल किए। बेल्जियम के गोलकीपर थिबॉट कुर्टियोस को गोल्डन ग्लव्स का पुरस्कार मिला। यह पुरस्कार विश्व कप में गोलकीपरों को शानदार प्रदर्शन के लिए दिया जाता है। थिबॉट कुर्टियोस ने इस विश्व कप में सबसे ज्यादा 27 गोलों का बचाव किया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story