Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

FIFA WC 2018: आखिरी छह मिनट के अंदर गोल दागकर फिलिप और नेमार ने ब्राजील की उम्मीदों को पंख लगा दिए

फिलिप कूटिन्हो और नेमार ने आखिरी छह मिनट के अंदर गोल दागकर ब्राजील को शुक्रवार को कोस्टारिका पर 2-0 से जीत दिलाकर पांच बार के चैंपियन की फीफा विश्व कप 2018 के अगले दौर में पहुंचने की उम्मीदों को पंख लगाये।

FIFA WC 2018: आखिरी छह मिनट के अंदर गोल दागकर फिलिप और नेमार ने ब्राजील की उम्मीदों को पंख लगा दिए
X

सेंट पीटर्सबर्ग। फिलिप कूटिन्हो और नेमार ने आखिरी छह मिनट के अंदर गोल दागकर ब्राजील को शुक्रवार को यहां कोस्टारिका पर 2-0 से जीत दिलाकर पांच बार के चैंपियन की फीफा विश्व कप 2018 के अगले दौर में पहुंचने की उम्मीदों को पंख लगाये।

कोस्टारिका के रक्षकों विशेषकर गोलकीपर केलार नेवास के अच्छे प्रदर्शन से ब्राजील कुछ अच्छे मौके बनाने के बावजूद डेढ़ घंटे से भी अधिक समय तक गोल के लिये तरसता रहा। ऐसे में दूसरे हाफ के इंजुरी टाइम के पहले मिनट (90+1) में कूटिन्हो ने गोल दागा जबकि अंतिम सीटी बजने से एक मिनट पहले नेमार (90+7) ने भी गोल करके कोस्टारिका का सफर ग्रुप चरण तक सीमित कर दिया।

इस जीत से ब्राजील ग्रुप ई में दो मैचों में चार अंक लेकर शीर्ष पर पहुंच गया है जबकि कोस्टारिका दो मैचों में खाता भी नहीं खोल पाया। ब्राजील अपने आखिरी मैच में 27 जून को सर्बिया से जबकि कोस्टारिका इसी दिन स्विट्जरलैंड से भिड़ेगा। जब लग रहा था कि फीफा विश्व कप 2018 में पहली बार कोई मैच गोलरहित छूट जाएगा तब कूटिन्हो ने गोल करके कोच टिटे सहित ब्राजीली प्रशंसकों को बड़ी राहत दिलायी।

कूटिन्हो ने यह गोल एकल प्रयास से किया। इसके कुछ मिनट बाद नेमार ने डगलस कोस्टा के पास पर करीब से गोल दागा। नेमार का यह अंतरराष्ट्रीय फुटबाल में 56वां गोल है और उन्होंने रोमेरियो को पीछे छोड़ा। अब ब्राजील की तरफ से उनसे अधिक गोल पेले (77) और रोनाल्डो (62) के नाम पर है। ब्राजील फिर से पहले हाफ में गोल करने में नाकाम रहा।

यह विश्व कप के पिछले चार में तीसरा मैच था जबकि पांच की बार की विश्व चैंपियन पहले हाफ में गोल नहीं कर पायी। उसने हालांकि स्विट्जरलैंड के खिलाफ 1-1 से ड्रा छूटे पहले मैच में शुरू में गोल दागा था। असल में पहले पंद्रह मिनट में ब्राजीली आक्रमण बेहद ढीला लगा और इस दौरान कोस्टारिका ने अच्छा खेल दिखाया। यही नहीं कोस्टारिका की रक्षापंक्ति ने भी अपने खेल से प्रभावित किया और पहले 45 मिनट में नेमार को बांधे रखने में सफलता हासिल की।

कोस्टारिका ने गेंद पर कम कब्जा जमाया लेकिन जवाबी हमले में उसने कुछ अच्छे मौके बनाये। उसके पास शुरू में बढ़त बनाने का मौका भी था। खेल के 13वें मिनट में क्रिस्टियन गाम्बोआ ने दायें छोर से सेल्सो बोर्गेस को गेंद थमायी लेकिन इस मिडफील्डर का शाट बाहर चला गया। ब्राजील को 26वें मिनट में बढ़त मिल जाती लेकिन गैब्रियल जीसस का गोल ‘आफ साइड' होने के कारण अमान्य हो गया। इसके बाद भी ब्राजील के पास मौके थे लेकिन उसके शाट सटीक नहीं थे।

खेल के 41वें मिनट में मार्सेलो का शाट कोस्टारिका के गोलकीपर केलार नेवास को छकाने में नाकाम रहा। ब्राजील ने दूसरे हाफ में आक्रामक तेवर अपनाया। उसके पास 48वें मिनट में अवसर था लेकिन नेवास ने पालिन्हो का क्रास आसानी से रोक दिया। नेमार पहली बार 56वें मिनट में गोल करने की स्थिति में थे जब पालिन्हो का क्रास उनके पास पहुंचा था लेकिन नेवास ने बड़ी खूबसूरती से उनका प्रयास नाकाम कर दिया।

इसके सात मिनट बाद फिर से उन्होंने इस स्टार स्ट्राइकर के शाट को गोल में जाने से रोका था। कोस्टारिका की तरफ से 68वें मिनट में ब्रायन रूईज और योहान वेनेगास ने अच्छा मूव बनाया लेकिन रक्षापंक्ति में तैनात मिरांडा ने इसे अंजाम तक नहीं पहुंचने दिया। नेमार पर पिछले कुछ समय से फिटनेस संबंधी मामलों के कारण बाहर रहने का असर साफ दिख रहा था।

खेल के 78वें मिनट में जियानकार्लो गोंजालेज ने नेमार को बाक्स के अंदर गिरा दिया था जिस पर रेफरी ने शुरू में पेनल्टी का इशारा कर दिया था लेकिन वीएआर की मदद लेने के बाद उन्होंने अपना फैसला बदल दिया। इसके तुरंत बाद नेमार को गेंद पर गुस्सा दिखाने के लिये पीला कार्ड भी मिला। आखिरी क्षणों में हालांकि मैच का पासा पलट गया और कोस्टारिका को बाहर का रास्ता देखना पड़ा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story