Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये हैं दुनिया के टॉप-5 क्रिकेट स्टेडियम, जानें इसकी खासियत, भारत के ये तीन स्टेडियम हैं शामिल

भारत जैसे देश में, जहां क्रिकेट को धर्म माना जाता है और क्रिकेटरों की तुलना ईश्वर से की जाती है, यह स्वाभाविक है कि लोग मैच देखने के बारे में सपने देखते हैं, स्टेडियम में आने वाले भीड़ का अनुभव करते हैं, और अपने पसंदीदा सुपरस्टार को लाइव भी देखते हैं।

ये हैं दुनिया के टॉप-5 क्रिकेट स्टेडियम, जानें इसकी खासियत, भारत के ये तीन स्टेडियम हैं शामिल

स्टेडियम अपने खेल के मंदिर हैं और यहां खिलाड़ी अपनी प्रतिभा दिखा कर दुनिया भर में शोहरत बटोरते हैं। क्रिकेट ज्यादातर राष्ट्रमंडल देशों में खेला जाता है। भारत जैसे देश में, जहां क्रिकेट को धर्म माना जाता है और क्रिकेटरों की तुलना ईश्वर से की जाती है।

तो यह स्वाभाविक है कि लोग मैच देखने के बारे में सपने देखते हैं, स्टेडियम में आने वाले भीड़ का अनुभव करते हैं, और अपने पसंदीदा सुपरस्टार को लाइव भी देखते हैं। इसके साथ ही क्रिकेट का भरपूर मजा लेते हैं।

स्टेडियम में ऐतिहासिक तथ्यों, यादें और कई घटनाएं शामिल हैं, जैसे छह छक्के युवराज सिंह किंग्समेड स्टेडियम, अनिल कुंबले द्वारा ली गई दस विकेट एक टेस्ट की एक पारी में फिरोज शाह कोटला, दिल्ली। यहां हम दुनिया भर के पांच सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियमों के बारे में कुछ दिलचस्प तथ्य बताने जा रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: IND vs ENG: इंग्लैंड में भारत का टेस्‍ट रिकॉर्ड बेहद खराब, कप्तान कोहली के लिए खतरे की घंटी, देखें पूरा आंकड़ा

ये हैं दुनिया के टॉप-5 क्रिकेट स्टेडियम

एडीलेड ओवल, एडीलेड, ऑस्ट्रेलिया

क्षमता: 53,583

1871 में स्थापना हुआ, एडीलेड ओवल दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा स्टेडियम है और ऑस्ट्रेलिया में तीसरा सबसे बड़ा स्टेडियम है। यह न केवल क्रिकेट मैचों की मेजबानी करता है बल्कि फुटबॉल, रग्बी, टेनिस और कभी-कभी संगीत कार्यक्रम भी आयोजित करता है। इस स्टेडियम में 2 दिसंबर 2017 को एशेज क्रिकेट मैच में 55317 दर्शकों की अधिकतम उपस्थिति दर्ज की गई है।

राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम, हैदराबाद

क्षमता: 60,000

इस स्टेडियम में 16 नवंबर 2005 को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच आयोजित हुआ था। इसके अलावा 2017 इंडियन प्रीमियर लीग के अंतिम मैच की भी मेजबानी की।

पहले इसका नाम विशाखा इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम रखा गया था, बाद में फिर इसे राजीव गांधी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम नाम दिय गया। सनराइजर्स हैदराबाद का यह होम ग्राउंड है, यह बल्लेबाज के अनुकूल पिचों और उच्च स्कोरिंग गेम के लिए जाना जाता है।

इसे भी पढ़ें: PAK vs ZIM: पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे को 244 रन से रौंदा, फखर जमां ने वनडे में दोहरा शतक लगाकर बनाए कई बड़े रिकॉर्ड

शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम, नया रायपुर, भारत

क्षमता: 65000

इसकी स्थापना 2008 में हुई थी। यह छत्तीसगढ़ में स्थित है। 1857 में आजादी के युद्ध के अग्रदूत वीर नारायण सिंह के नाम पर इसका नाम रखा गया है। स्टेडियम में प्रदान की गई सुविधाओं से पूर्व महान भारतीय बल्लेबाज सुनील गावस्कर इतने प्रभावित हुए कि इसकी वास्तुकला की सराहना करते हुए कहा कि इसका उपयोग सभी प्रकार के मैचों के लिए किया जाना चाहिए।

ईडन गार्डन, कोलकाता

क्षमता: 66,000

1864 में स्थापित, इसे भारतीय क्रिकेट का घर माना जाता है, यह एक ऐसा मैदान है जहां हर भारतीय प्रशंसक भारतीय क्रिकेट टीम को देखने का सपना देखता है। इसकी आधिकारिक क्षमता 66,000 है, लेकिन यहां खेले गए कुछ मैचों में उपस्थिति को कम से कम चार मौकों पर 1,00,000 से अधिक दर्ज किया गया है।

लक्ष्मण ने इस मैदान को अपने प्रदर्शन के कारण घर माना है, क्योंकि उन्होंने 2000-2001 बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ राहुल द्रविड़ के साथ 376 रन की साझेदारी की थी। रोहित शर्मा ने नवंबर 2014 में इस स्थान पर वनडे क्रिकेट का सर्वोच्च स्कोर 264 रन बनाया था। 2000-2001 में हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट-ट्रिक बनाया और उन्हें टेस्ट क्रिकेट में हैट-ट्रिक लेने वाला पहला भारतीय बना दिया।

मेलबोर्न क्रिकेट ग्राउंड, ऑस्ट्रेलिया

क्षमता: 1,00,024

यह दुनिया का दसवां सबसे बड़ा स्टेडियम है और सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है। इसे 1853 में स्थापित किया गया था। यहां खेला गया पहला क्रिकेट मैच 15-19 मार्च, 1877 को ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एक टेस्ट मैच था। यह दुनिया के सबसे पुराने स्टेडियमों में से एक है। क्रिकेट के अलावा, इसका इस्तेमाल फुटबॉल, रग्बी, टेनिस, साइकलिंग और दुनिया भर के कलाकारों के विभिन्न संगीत कार्यक्रमों के लिए किया गया है।

Share it
Top