Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जाते-जाते ये क्या कह गए तिलकरत्ने दिलशान

संगाकारा के कप्तानी छोड़ने के बाद एक साल तक श्रीलंका टीम के कप्तान रहे दिलशान

जाते-जाते ये क्या कह गए तिलकरत्ने दिलशान
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके श्रीलंकाई क्रिकेटर तिलकरत्ने दिलशान ने अपने ग्लव्स उतारने के बाद अपने दर्द को कुछ इस तरह बयां किया। उन्होंने कहा कि उन्हें अपनी कप्तानी के दौरान टीम के पूर्व और मौजूदा खिलाड़ियों का समर्थन नहीं मिला।
विश्व कप 2011 के बाद कुमार संगाकारा के कप्तानी छोड़ने के बाद लगभग एक साल तक श्रीलंका टीम के कप्तान रहे दिलशान ने कहा- कप्तानी के दौरान मुझे टीम की कई चुनौतियां झेलनी पड़ी, जिनमें कई टीम साथियों ने मेरी मदद नहीं की. वहीं अचानक से मुझे कप्तानी से हटा दिया गया जिससे मुझे काफी दुख पहुंचा।
उन्होंने कहा- मैं कप्तानी के लिए तैयार नहीं था लेकिन टीम के हालात के कारण बोर्ड अध्यक्ष ने मुझे छह महीने तक इस पद को संभालने को कहा। दुर्भाग्य से उस समय तक मुथैया मुरलीध1रन रिटायर हो चुके थे।
नुवान कुलसेकरा और अंजथा मेंडिस चोटिल थे. टीम में बहुत अधिक खिलाड़ी नहीं थे। वर्तमान कप्तान एंजेलो मैथ्यूज भी चोटिल हो गए थे और उन्होंने गेंदबाजी करनी बंद कर दी थी। यह मेरा दुर्भाग्य था लेकिन जब मैं पद से हट गया तो मैथ्यूज ने भी गेंदबाजी शुरू कर दी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top