Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गुम हो गई है धोनी के ''बल्ले की धार'', ले सकते हैं सन्यास!

मैच दर मैच धोनी के परफार्मेंस में गिरावट देखी जा सकती है।

गुम हो गई है धोनी के

भारतीय टीम के सबसे सफल कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेन्द्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी में अब वो धार नहीं नजर आ रहा है। मैच दर मैच धोनी के परफार्मेंस में गिरावट देखी जा सकती है।

राजकोट में खेले गए दूसरे टी-ट्वेंटी मैच के 10वें ओवर में जब भारत के चार बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे तब धोनी क्रीज पर उतरे। मगर धोनी के धीमे खेल की वजह से रनों का औसत बढ़ता गया।

यह भी पढ़ें- IND vs NZ: न्‍यूजीलैंड ने भारत को 40 रनों से हराकर सीरीज में रोमांच बनाए रखा

रनों के औसत बढ़ने की वजह से दूसरे छोर पर जबरदस्त फार्म में खेल रहे कप्तान कोहली पर दबाब बढ़ता गया और तेज खेलने के चक्कर में उन्हें अपना विकेट गंवाना पड़ा। हालांकि धोनी ने बाद में कुछ शार्ट्स जरूर लगाए पर तब तक काफी देर हो चुकी थी, जिसकी वजह से भारत को 40 रनों से करारी शिकस्त झेलनी पड़ी।

यह पहला मौका नहीं है जब महेन्द्र सिंह धोनी के धीमे खेल की वजह से भारत को हार का सामना करना पड़ा है। पिछले कुछ मैंचों में जब भी टीम को धोनी के तेज बल्लेबाजी की जरूरत होती है, वह तेज नहीं खेल पा रहे हैं।

यह भी पढ़ें- IND vs NZ: आज का मैच जीतते ही टीम इंडिया रैंकिंग में पांचवें नंबर से सीधे यहां पहुंच जाएगी

ऐसा लग रहा है की उनके बल्ले में वो धार अब नहीं रहा जिसके लिए वह जाने जाते थे। अगर ऐसा ही चलता रहा तो जल्द ही हम टेस्ट क्रिकेट की तरह वनडे और टी-ट्वेंटी में भी धोनी के सन्यास की घोषणा सुन सकते हैं।

Share it
Top