Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खुलासा- मर्जी से नहीं दबाव में छोड़ी धोनी ने कप्तानी

कोहली ने कहा कि वह चाहते हैं कि धोनी अपने खेल को पूरा एंजॉय करें

खुलासा- मर्जी से नहीं दबाव में छोड़ी धोनी ने कप्तानी
X
नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह सोने ने पहले टेस्ट टीम की कप्तानी छोड़कर सबको चौंकाया और फिर वनडे और टी-20 की कप्तानी भी अचानक छोड़कर सबको हैरानी में डाल दिया। लेकिन इस बार उनके इस फैसले को लेकर कई सवाल उठने लगे हैं। हिन्दुस्तान टाइम्स के मुताबिक, धोनी को कप्तानी छोड़ने के लिए दबाव बनाया गया। उन्होंने अपनी मर्जी ने कप्तानी नहीं छोड़ी है।
धोनी के कप्तानी छोड़ने को लेकर लिए गए फैसले से हर कोई हैरान है। 4 जनवरी को बीसीसीआइ को जो मेल किया था उस पर गौर करने के बाद हर किसी को यही लग रहा है कि उन्होंने दबाव में कप्तानी छोड़ी है। बोर्ड को भेजे मेल में धोनी ने लिखा था, ‘मैं इस्तीफे की पेशकश करता हूं और विराट का मेंटर बनने के लिए तैयार हूं।'
बीसीसीआइ चीफ सेलेक्टर्स एमएसके प्रसाद ने नागपुर में झारखंड और गुजरात के मुकाबले के दौरान एमएस धोनी से मुलाकात की और शाम धोनी ने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया। इसके कुछ देर बाद एमएसके प्रसाद का बयान आया 'मैं धोनी के सेल्यूट करता हूं, कप्तानी छोड़ने की उनकी टाइमिंग सही है। वो जानते हैं कि टेस्ट मैच में शानदार प्रदर्शन के बाद विराट कोहली तैयार है। धोनी टेस्‍ट में खुद को गजब के कप्‍तान के रूप में साबित कर चुके हैं।'
बीसीसीआइ सूत्रों की माने तो सितंबर में कोहली को कप्तानी देने की पूरी रूप- रेखा तैयार कर ली गई थी। चीफ सेलेक्टर्स एमएसके प्रसाद और बीसीसीआई के सीईओ राहुल जौहरी ने इस बारे में कई बार धोनी से कई बार बात की थी की अब 2019 के वर्ल्ड कप को ध्यान में रखते हुए टीम तैयार करने का वक्त आ गया है।
विराट कोहली ने टेस्ट सीरीज में लगातार अच्छे नतीजे दिए हैं। वनडे और टी 20 में भी उन्हें कमान सौंपने की चर्चा तेज हो गई थी। इसके बाद ही धोनी ने कप्तानी छोड़ने का फैसला लिया। धोनी ने उनसे कहा कि वो टीम में बदलाव के लिए तैयार हैं। साथ ही विराट कोहली और टीम को भी इंग्लैंड में होने वाले इस बड़े टूर्नामेंट के लिए तैयार करेंगे। धोनी ने इस दौरान तीनों फॉर्मेट में एक ही कप्तान होने की बात की भी पैरवी की।
पिछले कुछ मुकाबलों में धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने खराब प्रदर्शन किया है। घरेलू जमीन पर साउथ अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया को हार मिली। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया के हाथों शिकस्त झेलनी पड़ी थी। जिसकी वजह से उन्हें लगातार आलोचना का शिकार होना पड़ रहा था।
विराट कोहली ने यह भी कहा कि वह चाहते हैं कि एमएस धोनी अपने खेल को पूरा एंजॉय करें और उसी अंदाज में बैटिंग करें, जिसके लिए वह जाने जाते रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि धोनी को ऊपरी क्रम में बैटिंग करनी चाहिए। फिर भी वह इस बारे में उनसे चर्चा करेंगे।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story