Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रियो पैरालंपिक: जेवलियन थ्रो में भारत के देवेंद्र ने जीता गोल्ड

देवेंद्र भारत के पहले एथलीट हैं जिन्होंने ओलंपिक या पैरालंपिक में दो व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीते हैं।

रियो पैरालंपिक: जेवलियन थ्रो में भारत के देवेंद्र ने जीता गोल्ड
ब्राजील. रियो पैरालंपिक में भारत के देवेंद्र झाजरिया ने इतिहास रच दिया है, जेवलियन थ्रो में उन्होंने विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता है। देवेंद्र ने 63.97 मी तक जेवलियन थ्रो कर विश्व रिकॉर्ड बनाया। वे इससे पहले एथेंस पैरालंपिक में भी विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीत चुके हैं।
देवेंद्र भारत के पहले एथलीट हैं जिन्होंने ओलंपिक या पैरालंपिक में दो व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीते हैं। रियो पैरालंपिक में भारत के अब 2 स्वर्ण, 1 रजत और 1 कांस्य पदक के साथ कुल 4 पदक हो गए हैं और भारत पदक तालिका में 31वें पायदान पर चल रहा है।
2016 में भारत को एक और बड़ी कामयाबी मिली है। पुरुषों के जैवलिन थ्रो F46 इवेंट में गोल्ड जीतने वाले 35 वर्षीय देवेंद्र राजस्थान के चुरू के रहने वाले हैं। उनका एक हाथ खराब है। झाझरिया ने 2004 में एथेंस में हुए पैरालिंपिक गेम्स, 2002 में साउथ कोरिया में हुए FESPIC गेम्स और 2013 में आईपीसी ऐथलेटिक्स वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था। इसके अलावा उन्होंने इसी इवेंट में सिल्वर मेडल जीता था। वहीं 2014 के एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल जीता था। वहीं 2013 के वर्ल्ड चैंपियनशिप में जीता गया गोल्ड भारत का इस गेम का पहला गोल्ड था। जैवलिन थ्रो का वर्ल्ड रेकॉर्ड भी उनके नाम है।
झाझरिया की राह में आर्थिक मुश्किलें खड़ी हुईं लेकिन वह लगातार आगे बढ़ते। इस साल अंग्रेजी अखबार द हिन्दू को एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था, 'मैं आठ या नौ साल था जब मुझे बिजली का करंट लगा था, मैं गांव में एक पेड़ पर चढ़ रहा था तभी मेरा हाथ बिजली की तार से टकरा गया। शायद यह 11000 वॉल्ट की तार थी। इस दुर्घटना की वजह से मेरा बायां हाथ खराब हो गया था। '
रेलवे के पूर्व कर्मचारी झाझरिया अब स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया के साथ काम करते हैं। झाझरिया को द्रोणाचार्य अवॉर्डी आरडी सिंह कोचिंग देते हैं, 2012 में उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया गया था।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top