Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IPL नीलामी 2018: इसलिए इन दिग्गज खिलाड़ियों पर दांव नहीं खेलना चाहती टीमें

आईपीएल सीजन-11 की नीलामी 27 और 28 जनवरी को होनी है, इस नीलामी में इस साल कुल 578 खिलाड़ियों की बोली लगेगी।

IPL नीलामी 2018: इसलिए इन दिग्गज खिलाड़ियों पर दांव नहीं खेलना चाहती टीमें

आईपीएल सीजन-11 में खिलाड़ियों की नीलामी बहुत नजदीक आ चुकी है, इस सीजन की नीलामी 27 और 28 जनवरी को होनी है। आईपीएल नीलामी में इस साल कुल 578 खिलाड़ियों की बोली लगेगी, इसमें सभी आठ टीमें अपने खेमे में सिर्फ 25 खिलाड़ियों को ही शामिल कर सकती हैं।

लेकिन इस सीजन में कुछ ऐसे दिग्गज खिलाड़ियों की लंबी कतार हैं जिन्हें शायद ही कोई टीम खरीदना चाहेगी। जानते हैं कुछ ऐसे ही खिलाड़ियों के बारे में जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में धमाल मचाने के बावजूद भी आईपीएल के इस सीजन में बाहर रहना पड़ सकता हैं।

इसे भी पढ़े: IPL 2018: कमाई के सारे रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं दुनिया के ये धाकड़ क्रिकेटर्स

डेल स्टेन: दुनिया के सबसे बेहतरीन तेग गेंदबाजों में से एक डेल स्टेन इस सूची में पहले स्थान पर हैं। खबरों की माने तो आईपीएल के इस सीजन में शायद ही कोई टीम इस दिग्गज खिलाड़ी पर पैसा लगाए। मौजूदा दौर में स्टेन लगातार चोटों से जूझ रहे हैं। डेल स्टेन आईपीएल में 90 मैच खेलते हुए 6.7 की औसत से अब तक 92 विकेट ले चुके हैं।

स्टीवन फिन: इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टीवन फिन भी शायद आईपीएल के इस सीजन में बाहर बैठ सकते हैं, फिन का बेस प्राइस और इंजरी इसकी बड़ी वजह है। इस खिलाड़ी का नीलामी में बेस प्राइस 1.5 करोड़ है। यहां तक कि फिन पिछले दो सालों से टीम-20 क्रिकेट से भी दूर हैं।

जेसन होल्डर: वेस्टइंडीज के वनडे और टेस्ट टीम के कप्तान जेसन होल्डर भी शायद ही इस बार आईपीएल में नजर आ सकते हैं। क्योंकि इस खिलाड़ी का बेस प्राइस 1.5 करोड़ है, और बल्लेबाजी में भी इनका स्ट्राइट रेट तो अच्छा है लेकिन इन्होंने सिर्फ 10 की औसत से ही रन बनाए हैं।

कैमरन व्हाइट: बिग बैश लीग के सातवें सीजन में कैमरन व्हाइट ने 150 की औसत से रन बनाकर धमाल मचा दिया है। कैमरन आईपीएल के पिछले तीन सीजन में तीन अलग-अलग टीमों के लिए खेल चुके हैं। दरअसल कैमरन व्हाइट का बेस प्राइस 2 करोड़ रुपये है इसलिए इनका खेलना मुश्किल लगा रहा है।

Share it
Top