Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CWG 2022: इस बार बगैर मेडल के लौटेंगी भारत की स्टार खिलाड़ी, जानें कहां हुई ओलिंपिक मेडलिस्ट से चूक

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में ( Commonwealth Games 2022) भारतीय खिलाड़ी लगातार अपने प्रदर्शन में सुधार करते हुए मेडल की ओर आगे बढ़ (performance and moving towards medals) रहे हैं।

CWG 2022: इस बार बगैर मेडल के लौटेंगी भारत की स्टार खिलाड़ी, जानें कहां हुई ओलिंपिक मेडलिस्ट से चूक
X

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में ( Commonwealth Games 2022)भारतीय खिलाड़ी लगातार अपने प्रदर्शन में सुधार करते हुए मेडल की ओर आगे बढ़ (performance and moving towards medals)रहे हैं। वहीं, भारत की स्टार (India's star female boxer) महिला बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन अपने पंच का (power of her punch)दम नहीं दिखा सकीं और एक बड़े उलटफेर का शिकार हुई हैं। वह क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गई हैं।

टोक्यो ओलिंपिक में लवलीना बोरगोहेन ने ब्रॉन्ज (Lovlina Borgohain won the bronze medal in the Tokyo) मेडल जीता था। वह एकमात्र बॉक्सर थीं, जिन्हें मेडल मिला था। कॉमनवेल्थ गेम्स से पहले लवलीन से सिर्फ मेडल ही नहीं गोल्ड मेडल की उम्मीद थी। लेकिन वह मेडल भी नहीं जीत सकीं। महिलाओं के 70 किग्रा कैटेगरी के क्वार्टर फाइनल (quarterfinals) मुकाबले में लवलीना को वेल्स की रोसी एसेल्स ने 3-2 से हरा दिया। यह इस गेम्स के सबसे बड़े उलटफेर में एक माना जा (biggest upsets of this game) रहा है।

इस वजह से हारी लवलीना

इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games) के छठे दिन लवलीना का वेल्स की रोसी एसेल्स से (Rosie Assels) मुकाबला हुआ। इस मैच में लवलीना ने दमदार शुरुआत की थी। उन्होंने मामूली अंतर से सही, पर 2 राउंड में बढ़त बना ली (corrected by a small margin) थी। मगर आखिर में रोसी एसेल्स ने उलटफेर करते हुए 3-2 से मैच अपने नाम कर लिया। इस तरह लवलीना का कॉमनवेल्थ में बगैर मेडल के ही लौटना होगा। उनके स्तर के बॉक्सर से उम्मीद की जाती है कि मैच में बढ़त को और मजबूत करें लेकिन लवलीना नहीं ऐसा नहीं किया (match but not Lovlina)।

cwg से पहले विवादों में आई

गौरतलब है कि कॉमनवेल्थ गेम्स शुरू होने से पहले ही लवलीना विवादों में आ गई (start of the Commonwealth Games) थीं। उन्होंने खेल शुरू होने से चंद दिन पहले ट्वीट किया कि उनकी पर्सनल कोच में खेल गांव में एंट्री (Boxing Federation of mentally) नहीं मिल रही है। उन्होंने बॉक्सिंग फेडरेशन पर खुद को मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का भी आरोप लगाया। इसके बाद उनकी कोच संध्या गुरुंग को खेल गांव में एंट्री तो दे दी गई। इसके अलावा लवलीना ने कॉमनवेल्थ गेम्स (Lovlina had decided) की ओपनिंग सेरेमनी को बीच में ही छोड़ने का फैसला किया (Commonwealth Games midway) था। ओपनिंग सेरेमनी को छो़ड़ने पर लवलीना का कहना था कि उनको सुबह अभ्यास करना होता है और इसी वजह से जल्दी जाना चाहती (wants to leave early) हैं।

और पढ़ें
Next Story