Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

युवराज सिंह बोले- सिर्फ मेरे नहीं, इन खिलाडियों के साथ भी BCCI ने नहीं किया अच्छा व्यवहार!

Yuvraj Singh : युवराज सिंह ने सिर्फ खुदका नाम नहीं लिया, बल्कि उन्होंने कहा कि हरभजन सिंह, जहीर खान और वीरेंदर सहवाग जैसे महान खिलाड़ियों के साथ भी करियर के अंत में अच्छा व्यवहार नहीं हुआ, तो मेरे साथ ये नया नहीं था इसलिए मुझे आश्चर्य नहीं हुआ।

Yuvraj Singh ने पीटरसन से कहा- मै ठीक नहीं हूं दोस्त, देखिए ऐसा क्यों बोले युवराज
X
yuvraj singh (File Image)

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी युवराज सिंह ने अपने दम पर भारत को कई यादगार मैच जिताए हैं। नेटवेस्ट सीरीज हो या 2007 का टी20 वर्ल्ड कप या 2011 क्रिकेट वर्ल्ड जैसे यादगार टूर्नामेंट में युवराज सिंह ने महत्वपूर्ण परियां खेली है। युवराज सिंह को सिक्सर किंग भी कहा जाता है, उन्होंने इंग्लैंड क्रिकेटर स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में 6 छक्के लगाकर इतिहास रचा था।

अब युवराज सिंह क्रिकेट से दूर है, और सन्यास ले चुके हैं लेकिन बीसीसीआई के रवैये को युवराज सिंह अभी भी नहीं भूल सके हैं। एक वेबसाइट ने युवराज सिंह के हवाले से लिखा - कि बीसीसीआई ने मेरे साथ मेरे करियर के अंत में गैर प्रोफेशनल जैसा व्यवहार किया था।

बीसीसीआई को बदलना चाहिए ये रवैया - युवराज सिंह

युवराज सिंह ने सिर्फ खुदका नाम नहीं लिया, बल्कि उन्होंने कहा कि हरभजन सिंह, जहीर खान और वीरेंदर सहवाग जैसे महान खिलाड़ियों के साथ भी करियर के अंत में अच्छा व्यवहार नहीं हुआ, तो मेरे साथ ये नया नहीं था इसलिए मुझे आश्चर्य नहीं हुआ। युवराज सिंह ने कहा कि बीसीसीआई को इस रवैये को बदलना चाहिए, और इंडियन क्रिकेट टीम के लिए खेलने वाले क्रिकेटर को इज्जत देनी चाहिए।

मै नहीं हूं महान क्रिकेटर - युवराज सिंह

युवराज सिंह ने कहा कि मै नहीं मानता कि मै महान क्रिकेटर हूं, मैंने अधिक टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला इसलिए मै खुद को महान क्रिकेटर नहीं मानता। उन्होंने साथ ही कहा कि वीरेंदर सहवाग ने शानदार टेस्ट क्रिकेट खेला, गौतम गंभीर ने भारत को वर्ल्ड कप जितवाए, जहीर और लक्ष्मण ये महान क्रिकेटर हैं, और उनका सम्मान बीसीसीआई को करना चाहिए।

Next Story