Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

WTC फाइनल: इस दिग्गज खिलाड़ी की जगह सिराज को Playing XI में मिल सकता है मौका

भारतीय टीम प्रबंधन सिराज को फाइनल मुकाबले के लिए प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के लिए उत्सुक है। अगर सिराज अभ्यास के दौरान अपनी फिटनेस को साबित करने में सफल रहते हैं, तो उन्हें फाइनल मुकाबले में खिलाया जा सकता है।

WTC फाइनल: इस दिग्गज खिलाड़ी की जगह सिराज को Playing XI में मिल सकता है मौका
X

टीम प्रबंधन सिराज को फाइनल मुकाबले के लिए प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के लिए उत्सुक है।

खेल। भारत और न्यूजीलैंड (Ind vs NZ) के बीच होने वाले वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल मुकाबले में अब कुछ ही दिन बचे हैं। वहीं मुकाबले के लिए भारतीय टीम (team India) ने साउथैम्पटन (Southampton) में अपनी ट्रेनिंग भी शुरु कर दी है। लेकिन कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol) के चलते भारतीय खिलाड़ियों को अभी तीन-चार के समूह में अभ्यास करने की अनुमति है। इसके साथ ही जब शुक्रवार से पूरी टीम भारतीय टीम एक साथ अभ्यास के लिए उतरेगी तो यह तेज गेंदबाजों के लिए एक तरह का ऑडिशन होगा। अभ्यास सत्र के दौरान सबकी नजरें मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) पर रहेंगी। क्योंकि टीम प्रबंधन सिराज को फाइनल मुकाबले के लिए प्लेइंग इलेवन में शामिल करने के लिए उत्सुक है। अगर सिराज अभ्यास के दौरान अपनी फिटनेस को साबित करने में सफल रहते हैं, तो उन्हें फाइनल मुकाबले में खिलाया जा सकता है।

वहीं कुछ रिपोर्ट के अनुसार मोहम्मद सिराज को ईशांत शर्मा की जगह प्लेइंग XI में जगह मिल सकती है, लेकिन यह एक कठिन निर्णय हो सकता है। बता दें कि अगस्त 2019 के वेस्टइंडीज दौरे के बाद यह पहली बार है कि ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह सभी चयन के लिए उपलब्ध हैं। हालिया वर्षों में विदेशों में भारत की सफलता के पीछे इन तीनों का अहम योगदान रहा है, ईशांत शर्मा को इंग्लैंड में 12 टेस्ट मैच खेलने का अनुभव है। लेकिन टीम प्रबंधन ईशांत की बढ़ती उम्र को लेकर सावधान है। ईशांत इंग्लैंड दौरे के दौरान 33 साल के हो जाएंगे। ईशांत ने टखने की चोट से उबरने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज के जरिए टीम में वापसी की थी। साथ ही टीम मैनेजमेंट को ईशांत के लंबे गेंदबाजी स्पेल को लेकर भी दुविधा में है। ऐसे में टीम मैनेजमेंट सिराज को मौका देना चाहता है, जो अपनी स्पीड को कम किए बगैर लंबी स्पेल डाल सकते हैं।

ईशांत शर्मा के बाहर होने की एक और वजह रवींद्र जडेजा का भी फिट होना है। रवींद्र जडेजा पिछले दो सालों से गेंद के साथ ही बल्ले से भी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। जडेजा को बतौर ऑलराउंडर प्लेइंग 11 में जगह मिल सकती है, इसके अलावा रविचंद्रन अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में गेंद और बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन किया है। ऐसे में जडेजा के साथ अश्विन का भी खेलना तय माना जा रहा है। साउथैम्पटन में अभी भी काफी सर्दी है, जिसके चलते न्यूजीलैंड की टीम चार तेज गेंदबाजों के साथ उतर सकती है। भारत ने साउथैम्पटन में अब तक दो टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें मोईन अली की स्पिन ने भारतीय बल्लेबाजों को काफी परेशान किया था। लेकिन वे दोनों टेस्ट गर्मियों के अंत में खेले गए थे।

Next Story