Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ICC World Cup 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ शाकिब अल हसन ने कर दी रिकॉर्ड की बरसात, देखें पूरी लिस्ट

ICC World Cup 2019 BAN vs AFG: वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) में शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) ने शानदार ऑल-राउंड प्रदर्शन करते बल्ले से 51 रन बनाए और अफगानिस्तान (Afghanistan) के खिलाफ अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट भी झटके। आगे जानिए अफगानिस्तान के खिलाफ शाकिब अल हसन द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड्स की पूरी लिस्ट।

ICC World Cup 2019: अफगानिस्तान के खिलाफ शाकिब अल हसन ने कर दी रिकॉर्ड की बरसात, देखें पूरी लिस्टWorld Cup 2019 BAN vs AFG Shakib Al Hasan records List against Afghanistan

World Cup 2019 BAN vs AFG

वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) में शाकिब अल हसन (Shakib Al Hasan) ने शानदार ऑल-राउंड प्रदर्शन करते बल्ले से 51 रन बनाए और अफगानिस्तान (Afghanistan) के खिलाफ अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट भी झटके। शाकिब के ऑल-राउंड प्रदर्शन की बदौलत बांग्लादेश ने अफगानिस्तान (Bangladesh vs Afghanistan) को 62 रनों से हरा दिया। हरफनमौला खिलाड़ी टूर्नामेंट में बल्ले से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। वह केवल छह पारियों 476 रन बनाकर टूर्नामेंट में सबसे आगे है। आगे जानिए अफगानिस्तान के खिलाफ शाकिब अल हसन द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड्स की पूरी लिस्ट।

अफगानिस्तान के खिलाफ शाकिब अल हसन द्वारा बनाए गए रिकॉर्ड्स की लिस्ट

1. शाकिब अल हसन दो शतक बनाने वाले और दो बार 4 विकेट लेने वाले विश्व कप इतिहास में अब पहले खिलाड़ी हैं। शाकिब ने इस संस्करण में अपने दोनों वर्ल्ड कप शतक बनाए जबकि इस प्रतियोगिता में उन्होंने पहला चार विकेट 2015 में न्यूजीलैंड के खिलाफ लिया था।

2. शाकिब ने इस टूर्नामेंट में 95.2 की औसत से 476 रन बनाए और 30.10 की औसत से 10 विकेट लिए हैं। वह इस प्रकार 400 से अधिक रन बनाने और एक ही संस्करण में 10+ विकेट लेने वाले वर्ल्ड कप इतिहास में पहले खिलाड़ी बन गए।

3. वह विश्व कप के इतिहास में शतक लगाने वाले और 5 विकेट लेने वाले केवल दूसरे खिलाड़ी हैं। इससे पहले 2011 के संस्करण में युवराज सिंह ने आयरलैंड के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की थी।

4. शाकिब अल हसन विश्व कप के एक ही संस्करण में शतक बनाने वाले और 5 विकेट लेने वाले केवल तीसरे खिलाड़ी हैं। 1983 में कपिल देव और 2011 में युवराज सिंह इस उपलब्धि को हासिल करने वाले अन्य दो खिलाड़ी हैं।

Share it
Top