Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Wasim Akram Birthday: 30 साल की उम्र में हुए थे बीमारी से ग्रसित, देखिए कैसे बदली थी तेज गेंदबाज की जिंदगी

Wasim Akram Birthday : वसीम अकरम ने 18 वर्ष की आयु में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखा था, उन्होंने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय वनडे मैच न्यूजीलैंड के विरुद्ध 1984 में खेला था। वसीम अकरम ने 1985 में अपना पहला टेस्ट क्रिकेट मैच खेला था।

Wasim Akram Birthday: 30 साल की उम्र में हुए थे बिमारी से ग्रसित, देखिए कैसे बदली थी तेज गेंदबाज की जिंदगी
X
Wasim Akram Birthday

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वासिन अकरम (Wasim Akram Birthday) बुधवार को अपना 54वां जन्मदिन सेलिब्रेट करेंगे। अपनी शानदार गेंदबाजी के लिए दुनिया भर में मशहूर होने वाले पूर्व क्रिकेटर का जन्म लाहौर में एक पंजाब मुस्लिम परिवार में हुआ।

उनके पिता आजादी से पहले भारत में रहते थे, वहीं बंटवारे के समय उन्होंने पाकिस्तान जाने का फैसला लिया। वर्तमान में क्रिकेट कमेंटेटर वसीम अकरम का क्रिकेट करियर शानदार रहा, वह अपनी गेंदबाजी के दम पर पाकिस्तानी क्रिकेट टीम को नई उचाईयों तक ले गए।

वसीम अकरम ने 18 साल की उम्र में किया था क्रिकेट डेब्यू

वसीम अकरम ने 18 वर्ष की आयु में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट (Wasim Akram Career) में कदम रखा था, उन्होंने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय वनडे मैच न्यूजीलैंड के विरुद्ध 1984 में खेला था। वसीम अकरम ने 1985 में अपना पहला टेस्ट क्रिकेट मैच खेला था।

वसीम अकरम ने अपने 19 साल के क्रिकेट करियर में 356 एकदिवसीय क्रिकेट मैच और 104 टेस्ट क्रिकेट मैच खेले थे। वसीम अकरम ने एकदिवसीय में 502 और टेस्ट क्रिकेट में 414 विकेट लिए हैं।

Also Read - विराट कोहली के पड़ोसी बनने जा रहे हैं युवराज सिंह, कोहली से महंगे घर में होंगे शिफ्ट

डायबिटीज बीमारी से हो गए थे ग्रसित

वसीम अकरम को बहुत बड़ा झटका लगा जब उन्हें पता चला कि उनको डायबिटीज है। वसीम अकरम ने कहा था कि मुझे ये जानकार बहुत झटका लगा था कि मुझे डायबिटीज है, क्योंकि उनके परिवार में कभी किसी को इस बीमारी की शिकायत नहीं थी।

वसीम अकरम ने कहा कि उस वक्त मेरी उम्र मात्र 30 वर्ष थी, मै बहुत तनाव में रहने लग गया था वहीं डॉक्टर्स ने सलाह दी थी कि इस तरह ये आपको नुकसान पहुंचा सकता है। वसीम अकरम ने डायबिटीज को लेकर कई जागरूक अभियानों में हिस्सा लिया, ताकि लोगों को इस बीमारी के बारे में जागरूक किया जा सके।

Next Story