Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

BCCI के फैसले पर जडेजा ने उठाए सवाल, पूछा- रातोंरात क्यों पड़ गई मेंटॉर की जरूरत?

भारतीय पूर्व बल्लेबाज अजय जडेजा ने बीसीसीआई के वर्ल्ड कप के लिए मेंटॉर नियुक्त करने को लेकर सवाल खड़े किए हैं। दरअसल भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी को आगामी टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का मेंटॉर नियुक्त किया गया है।

BCCI के फैसले पर जडेजा ने उठाए सवाल, पूछा- रातोंरात क्यों पड़ गई मेंटॉर की जरूरत?
X

खेल। भारतीय पूर्व बल्लेबाज अजय जडेजा (Ajay Jadeja) ने भारतीय टीम के लिए मेंटॉर नियुक्त करने को लेकर सवाल खड़े किए हैं। दरअसल भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) को आगामी टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) के लिए टीम इंडिया का मेंटॉर नियुक्त किया गया है। पिछले गुरुवार को बीसीसीआई (BCCI) ने विश्व कप के लिए अपनी 15 सदस्यीय टीम का ऐलान किया था।

अगले महीने 17 अक्टूबर से यूएई (UAE) और ओमान (OMAN) में आयोजित होना है। वहीं बोर्ड के सचिव जय शाह (Jay Shah) ने एमएस धोनी को टीम का मेंटॉर नियुक्त करने की घोषणा की थी। वहीं इन सब के बीच अजय जडेजा ने सवाल उठाए हैं।

क्रिकेटर से कॉमेंटेटर बने जडेजा ने सोनी स्पोर्ट्स से कहा कि उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि आखिर धोनी को मेंटॉर नियुक्त किए जाने के पीछे क्या सोच है। जडेजा ने आगे कहा कि ये मेरी समझ से बाहर है कि वहां टीम को वर्ल्ड नंबर वन बनाने वाला कोच है, तो रातों रात आपको मेंटॉर की क्यों जरुरत पड़ी? ये मेरे लिए थोड़ा हैरान करने वाला फैसला है।

बता दें कि एमएस धोनी ने पिछले साल 15 अगस्त 2020 को इंटरनैशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। उनके इस फैसले से हर कोई हैरान था। हालांकि वह अभी भी आईपीएल का हिस्सा हैं, साथ ही चेन्नई सुपर किंग्स की कप्तानी कर रहे हैं।

वहीं जडेजा ने कहा कि मेरे लिए ये मेंटॉर वाला लॉजिक समझना असंभव है। मैं पिछले दो दिन से इसके बारे में सोच रहा हूं। मैं माही की बात नहीं कर रहा हूं, उनके पास कमाल की समझ है। इस तरह का फैसला रवींद्र जडेजा को अजिंक्य रहाणे से आगे भेजने जैसा है।

24 अक्टूबर से भारत के अभियान की शुरुआत

वहीं वर्ल्ड कप में भारत के अभियान की शुरुआत 24 अक्टूबर से पाकिस्तान के खिलाफ होगी। इसके साथ ही भारतीय टीम में कई ऐसे खिलाड़ियों को शामिल किया गया है जो पहली बार इस टूर्नामेंट में अपना जलवा दिखाएंगे।

कप्तान विराट कोहली की अग्निपरीक्षा

इसके साथ ही भारतीय टीम कोहली की कप्तानी में अबतक कोई भी आईसीसी का बड़ा टूर्नामेंट नहीं जीत पाई है। ऐसे में कोहली इस विश्व कप को जीतने के लिए बड़ा दांव पेंच लगाना होगा। धोनी के टीम से जुड़ने से युवा खिलाड़ियों के लिए फायदा होगा जो पहली बार इस तरह का बड़ा टूर्नामेंट खेलेंगे।

और पढ़ें
Next Story