Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

श्रीलंका दौरे में डेब्यू कर सकते हैं ये सितारे, IPL और घरेलू क्रिकेट में मचाई है धूम

भारतीय टीम जुलाई में सीमित ओवरों की सीरीज के लिए श्रीलंका दौरे पर जाएगी. इस दौरान भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ तीन वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज खेल सकती है।

रवि विश्नोई, देवदत्त पडिक्कल, वरुण चक्रवर्ती, राहुल तेवतिया और हर्षल पटेल है स्टार खिलाड़ी
X

चार खिलाड़ियों ने IPL और घरेलू क्रिकेट में मचाई है धूम 

खेल। इसी साल जुलाई में भारतीय टीम (Indian Team) सीमित ओवरों की सीरीज (ODI and T20 series) के लिए श्रीलंका (Sri lanka) दौरे पर जाएगी। इस दौरान वह श्रीलंका के खिलाफ तीन वनडे (ODI) और तीन टी20 मैचों की सीरीज (T20 series) खेल सकती है। भारतीय टीम ने आखिरी बार 2018 में श्रीलंका का दौरा किया था, जब उसने त्रिकोणीय टी20 निदहास ट्रॉफी के फाइनल में बांग्लादेश (bangladesh) को मात देकर खिताब अपने नाम किया था।

विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह जैसे कई अहम भारतीय खिलाड़ी इस बार श्रीलंका के दौरे के लिए उपलब्ध नहीं होंगे। क्योंकि उस समय ये सभी खिलाड़ी इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज की तैयारी में व्यस्त होंगे। ऐसे में भारतीय टीम के पास नए नामों को परखना का बेहतरीन मौका है। बता दें कि, कई युवा सितारों ने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है। इनमें से कुछ सितारे श्रीलंका दौरे में पहली बार नीली जर्सी में दिखाई दे सकते हैं। हम आपको बताते हैं कि आखिर कौन से वो 5 भारतीय खिलाड़ी हैं जो श्रीलंका दौरे पर अपना इंटरनेशनल डेब्यू कर सकते हैं –

इस लिस्ट में सबसे पहले आते हैं केकेआर टीम के 'मिस्ट्री स्पिनर' वरुण चक्रवर्ती। वरुण चक्रवर्ती ने पिछले दो सालों में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है। चक्रवर्ती आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए अहम गेंदबाज बन गए हैं। वहीं आईपीएल 2021 में चक्रवर्ती ने 7 मैचों में 7 विकेट निकाले। इस दौरान उनकी इकोनॉमी रेट महज 7.82 की रही। पिछले साल आईपीएल में उन्होंने 13 मैचों में 17 विकेट झटके थे।

इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया दौरे लिए वरुण चक्रवर्ती को टी20 टीम में जगह मिली थी। लेकिन कंधे की चोट के चलते वह बाहर हो गए थे। वहीं अब कयास लगाए जा रहे हैं कि, श्रीलंका दौरे से वरुण चक्रवर्ती इंटरनेशनल डेब्यू कर सकते हैं।

वहीं इसके साथ ही दूसरे नंबर हैं राहुल तेवतिया। राहुल तेवतिया पिछले साल आईपीएल के दौरान सुर्खियों में आए थे। तेवतिया ने किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाज शेल्डन कॉट्रेल को एक ओवर में पांच छक्के जड़ दिए थे। जिसकी बदौलत राजस्थान रॉयल्स (RR) ने 224 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया था। तेवतिया एक आक्रामक बल्लेबाज के साथ ही मुफीद स्पिन गेंदबाज भी हैं। अच्छे प्रदर्शन के बाद उन्हें इस साल मार्च में इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया। हालांकि, तेवतिया को प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिल पाई थी। श्रीलंका दौरे पर तेवतिया को इंटरनेशनल डेब्यू करने का मौका मिल सकता है।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने आईपीएल 2021 में काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। चाहे गेंदबाजी हो या बल्लेबाजी दोनों में ही टीम ने अपने आप को साबित किया। और कहीं न कहीं बैंगलोर के अच्छा प्रदर्शन के पीछे गेंदबाज हर्षल पटेल का हाथ भी है। क्योंकि, हर्षल के आने के बाद से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) की गेंदबाजी में पैनापन देखने को मिला है। आरसीबी के लिए अपने पहले मैच में हर्षल ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। दरअसल, मुंबई इंडियंस (MI) के खिलाफ उस मुकाबले में उन्होंने 27 रन देकर 5 विकेट झटके थे। आईपीएल में मुंबई इंडियंस के खिलाफ पांच विकेट लेने वाले वह पहले गेंदबाज बन गए। आईपीएल 2021 के स्थगित होने के समय हर्षल पटेल 7 मैचों में 17 विकेट लेकर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाली की दौड़ में टॉप पर थे। दाएं हाथ का यह तेज गेंदबाज श्रीलंका के खिलाफ अपना डेब्यू कर सकता है।

वहीं आरसीबी के ही दूसरे खिलाड़ी देवदत्त पडिक्कल ने आईपीएल और घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है। जिसके बाद उनके इस प्रदर्शन के कारण श्रीलंका के खिलाफ उनका अंतरराष्ट्रीय डेब्यू मैच तय माना जा रहा है। इसके साथ ही पडिक्कल को श्रीलंका दौरे में बतौर ओपनर खिलाया जा सकता है और वह इसके हकदार भी हैं। आईपीएल 2020 में वह अपनी टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। 15 मैचों में 473 रन बनाकर उन्होंने इमर्जिंग प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का खिताब जीता था। इसके बाद उन्होंने विजय हजारे ट्रॉफी 2020-21 में अपनी बल्लेबाजी से सभी को प्रभावित किया। उन्होंने 7 मैचों में 147.4 की औसत से 737 रन बनाए, जिसमें चार शतक और तीन अर्धशतक शामिल रहे।

पंजाब किंग्स के 20 साल के युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया है। अंडर-19 विश्व कप 2020 में बिश्नोई ने सबसे ज्यादा 17 विकेट निकाले थे। बता दें कि, रवि बिश्नोई को आईपीएल 2020 की नीलामी में पंजाब ने 2 करोड़ रुपये में खरीदा था। आईपीएल 2020 में पंजाब की उम्मीदों पर खरे उतरते हुए उन्होंने 14 मैचों में 12 विकेट लिये थे। इस दौरान उनका इकोनॉमी रेट और 7.37 का रहा था। आईपीएल 2021 में बिश्नोई ने 6.18 की इकोनॉमी रेट से 4 मैचों में 4 विकेट लिए थे। श्रीलंका दौरे के लिए इस युवा स्पिनर को भारतीय टीम में शामिल किया जा सकता है।

Next Story