Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

8 साल की उम्र में Sachin Tendulkar से मिले थे पृथ्वी शॉ, सचिन ने दी थी ये खास टिप्स

पृथ्वी शॉ ने बताया कि सचिन तेंदुलकर के साथ उन्होंने पहली मुलाकात 8 साल की उम्र में की थी। शॉ ने कहा सचिन तेंदुलकर ने उन्हें बल्लेबाजी ग्रिप नहीं बदलने को कहा, जबकि इसके उलट उनके कोच उन्हें बल्लेबाजी ग्रिप बदलने की सलाह देते थे। शॉ ने कहा कि मै बैटिंग के दौरान अपने सीधे हाथ का प्रयोग अधिक करता था।

8 साल की उम्र में Sachin Tendulkar से मिले थे पृथ्वी शॉ, सचिन ने दी थी ये खास टिप्स
X

भारतीय क्रिकेटर्स (Indian Cricket Team) पृथ्वी शॉ दिल्ली कैपिटल (Prithvi Shaw) टीम के माध्यम से अपने फैंस के सामने लाइव वीडियो चैट (Cricketers Live Video Chat) के माध्यम जुड़े। पृथ्वी शॉ ने इस दौरान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के साथ उस मुलाकात का जिक्र भी किया, जब वो 8 साल के थे। उस समय सचिन तेंदुलकर ने पृथ्वी शॉ को बल्लेबाजी (Sachin Tendulkar gives Batting Tips) की ऐसी टिप्स दी, जो आज तक वो फॉलो करते हैं।

पृथ्वी शॉ मानते हैं कि सचिन तेंदुलकर की टिप्स के सहारे ही वो भारतीय क्रिकेट टीम में जगह बना पाए। पृथ्वी शॉ ने बताया कि सचिन तेंदुलकर ही उनके आदर्श क्रिकेटर भी रहे हैं। चलिए देखते हैं कि सचिन तेंदुलकर ने पृथ्वी शॉ को कौन सी टिप्स दी थी।

सचिन तेंदुलकर ने पृथ्वी शॉ को दी खास टिप्स

पृथ्वी शॉ ने बताया कि सचिन तेंदुलकर के साथ उन्होंने पहली मुलाकात 8 साल की उम्र में की थी। शॉ ने कहा सचिन तेंदुलकर ने उन्हें बल्लेबाजी ग्रिप नहीं बदलने को कहा, जबकि इसके उलट उनके कोच उन्हें बल्लेबाजी ग्रिप बदलने की सलाह देते थे। शॉ ने कहा कि मै बैटिंग के दौरान अपने सीधे हाथ का प्रयोग अधिक करता था।

कोच मुझे ग्रिप बदलने के लिए कहते, जबकि सचिन सर ने ग्रिप (How To Grip Bat In Cricket) नहीं बदलने की सलाह दी थी। सचिन तेंदुलकर ने पृथ्वी शॉ को क्रिकेट ग्राउंड के बाहर भी शांत रहने की सलाह दी थी। सचिन तेंदुलकर पृथ्वी शॉ को हमेशा उनका स्वाभाविक खेल खेलने की सलाह देते थे।

Also Read- Coronavirus के कारण इन भारतीय क्रिकेटरों की रुकी शादी

शिखर धवन है पसंदीदा जोड़ीदार

पृथ्वी शॉ ने बताया कि उनका फेवरेट पार्टनर शिखर धवन (Shikhar Dhawan) हैं, आपको बता दें कि शिखर धवन और पृथ्वी शॉ दिल्ली कैपिटल्स के लिए साथ में खेले हैं। पृथ्वी शॉ ने इस दौरान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) को प्रेरणादायक बताया। पृथ्वी शॉ ने कहा कि गांगुली सर युवा क्रिकेटर्स को प्रेरित करते हैं, और वो इसे अच्छे से भी जानते हैं कि युवा क्रिकेटर्स को कैसे मोटीवेट करना है।

और पढ़ें
Next Story